कानून से संबंधित जागरूकता फैलाने में विद्यार्थियों की भूमिका अहम

कानून से संबंधित जागरूकता फैलाने में विद्यार्थियों की भूमिका अहम

By: S F Munshi

Published: 11 Oct 2021, 12:09 AM IST

कानून से संबंधित जागरूकता फैलाने में विद्यार्थियों की भूमिका अहम
धारवाड़
न्यायाधीश पंचाक्षरी ने कहा है कि भारत की आजादी के 75 साल पूर्ण होने के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव की याद में राष्ट्रीय कानून सेवा प्राधिकरण पैन इंडिया जागरूकता कार्यक्रम 2 अक्टूबर से 14 नवम्बर तक आयोजित किए जाएंगे। कानून सेवा सप्ताह 8 से 14 नवम्बर तक आयोजित किए जाएंगे। इस दिशा में कानून सेवा प्राधिकरण की ओर से धारवाड़ शहर में स्थित प्रेजेंटेशन पीयू कॉलेज में कानून जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया था। कार्यक्रम का उद्घाटन चतुर्थ अतिरिक्त जिला तथा सत्र न्यायालय की न्यायाधीश पंचाक्षरी ने पौधों को सींच कर किया। उद्घाटन के दौरान उन्होंने कहा कि अपराध करने वाला यदि अपने अपराध को स्वीकार करता है तो इससे उसकी सजा कम नहीं होती। आम जनता की भी जिम्मेदारी है कि कानून को अच्छी तरह से पहले समझें। बालिकाओं से होने वाले बलात्कार से संबंधित मामलों को सुलझाने के लिए विशेष न्यायालय स्थापित किए गए हैं। उन्होने पोक्सो अधिनियम, यौन उत्पीडऩ अधिनियम, बाल विवाह की रोकथाम के लिए जारी अधिनियमों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।
जिला कानून सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव तथा वरिष्ठ न्यायाधीश पुष्पलता सीएम ने कहा कि कानून से संबंधित जागरूकता का उल्लेख 12वीं सदी के दार्शनिक बसवण्णा के वचनों मे मिलता है। कार्यक्रम का संचालन विवेक जैन ने किया। अतिथियों का स्वागत प्रजेंटेशन कालेज के उपप्राचार्य ने किया। अंत में कानूनी स्वयंसेवक नागराज हूगार ने धन्यवाद प्रेषित किया।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned