scriptमेहनत के बूते पाया मुकाम, प्रवासियों में आपसी भाईचारा व प्रेम बना रहें | Patrika News
हुबली

मेहनत के बूते पाया मुकाम, प्रवासियों में आपसी भाईचारा व प्रेम बना रहें

नर्मदा नहर परियोजना प्रबंध समिति सांचौर के चेयरमैन राव मोहनसिंह चितलवाना का सम्मान

हुबलीJun 12, 2024 / 02:52 pm

ASHOK SINGH RAJPUROHIT

नर्मदा नहर परियोजना प्रबंध समिति सांचौर के चेयरमैन राव मोहनसिंह चितलवाना का सम्मान करते प्रवासी।

नर्मदा नहर परियोजना प्रबंध समिति सांचौर के चेयरमैन राव मोहनसिंह चितलवाना का सम्मान करते प्रवासी।

एक-दूसरे की मदद में हाथ बंटाए
राजस्थान के लोगों ने अपनी ईमानदारी एवं मेहनत के बल पर राजस्थान का नाम ऊंचा किया है। जहां भी गए बिजनस को उंचाइयां दीं हैं। इसी तरह की उंचाइयां छूते रहें। साथ ही आपसी भाईचारा व प्रेम जरूर कायम बना रहे। नर्मदा नहर परियोजना प्रबंध समिति सांचौर के चेयरमैन राव मोहनसिंह चितलवाना ने यह बात कही। यहां राजस्थानी प्रवासी समाज की ओर से आयोजित सम्मान समारोह में उन्होंने कहा कि पीढिय़ों से राजस्थान के लोग यहां निवास कर रहे हैं। अपनी लगन से व्यापार को आगे बढ़ाया। मौजूदा समय में अब केवल पैसा ही सब कुछ नहीं है। आपसी प्रेम जरूरी है। एक-दूसरे की मदद में हाथ बंटाए। सुख-दुख में सहभागी बनें। दिखावे से हम दूर रहें। राव ने कहा कि राजस्थान के लोगों की मेहमानवाजी का हर कोई कायल है। यह स्वागत-सत्कार सदैव याद रहेगा।
दूध में शक्कर की तरह घुल-मिल गए हैं प्रवासी
प्रारम्भ में स्वागत भाषण देते हुए बीरबल एम. विश्नोई साहू ने कहा, राजस्थान के लोग यहां दूध में शक्कर की तरह घुल-मिल गए हैं। वैसे भी राजस्थान के लोगों की यह खासियत होती है कि वे जहां भी जाते हैं, वहां की कला एवं संस्कृति के साथ तारतम्य बना ही लेते हैं। प्रवासियों के सभी के साथ आत्मीय संबंध है। यही वजह हैं कि वे हर किसी को अपना बना लेते हैं।
बेटियों को दें आगे बढऩे का अवसर
सिद्धारूढ़ स्वामी मठ ट्रस्ट समिति के पूर्व चेयरमैन महेन्द्र सिंघी ने कहा, हुब्बल्ली सिद्धारूढ़ स्वामी की प्रसिद्ध भूमि है। इस पवित्र भूमि पर आकर कई लोगों का जीवन संवरा है। वे बिजनस एवं अन्य क्षेत्रों में सफलता के शिखर पर पहुंचे हैं। सिंघी ने बेटियों को पढ़ाने की वकालत करते हुए कहा कि बेटियों को जरूर पढ़ाएं। बेटी पढ़ेगी तभी समाज एवं देश आगे बढ़ेगा। उन्हें प्रोत्साहन दें। आगे बढऩे का अवसर दें।
विभिन्न समाज एवं संगठनों ने किया राव का सम्मान
इस अवसर पर प्रकाश कटारिया ने भी अपने विचार रखे। महेन्द्र जैन ने देशभक्ति गायन की प्रस्तुति दी। राजस्थान राजपूत समाज संघ हुब्बल्ली के अध्यक्ष पर्बतसिंह खींची एवं डॉ. सी.एच. पाटिल भी मंच पर मौजूद थे। गणपत विश्नोई ने धन्यवाद ज्ञापित किया। बीरबल एम. विश्नोई सोहू ने राव मोहनसिंह को स्मृति चिन्ह प्रदान कर एवं शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। विमल जैन, अशोक गोयल एवं अशोक कोठारी ने भी अतिथियों का सम्मान किया। इस अवसर पर विभिन्न समाज एवं संगठनों की ओर से भी राव का सम्मान किया गया।

Hindi News/ Hubli / मेहनत के बूते पाया मुकाम, प्रवासियों में आपसी भाईचारा व प्रेम बना रहें

ट्रेंडिंग वीडियो