सडक़ हादसों से देश का विकास बाधित

सडक़ हादसों से देश का विकास बाधित
-राष्ट्रीय सडक़ सुरक्षा सप्ताह पर नुक्कड़ नाटक से जनजागरण
धारवाड़

S F Munshi

January, 1408:00 PM

सडक़ हादसों से देश का विकास बाधित
धारवाड़
धारवाड़ तहसीलदार संतोषकुमार बिरादर ने कहा है कि सडक़ हादसों के कारण देश का विकास बाधित होता है। वे धारवाड़ में मंगलवार को पुराने बस स्टैण्ड पर 31वें राष्ट्रीय सडक़ सुरक्षा सप्ताह के उपलक्ष्य में जिला प्रशासन, सूचना एवं सार्वजनिक संपर्क विभाग तथा परिवहन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में जनजागरूकता के लिए आयोजित नुक्कड़ नाटक तथा जानपद संगीत कार्यक्रम का उद्घाटन कर बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि जल्दबाजी तथा लापरवाही से वाहन चलाने से सडक़ हादसे होते हैं। सडक़ हादसों में अधिकतर युवक जान गंवाते हैं। इससे देश के विकास पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। सडक़ हादसे एवं यातायात नियमों का उल्लंघन आम तौरपर पढ़े-लिखे ही करते हैं। उनमें भी विशेष रूप से विद्यार्थी, युवक, व्यावसायिक यातायात नियमों का पालन ना करने से दुर्घटना का शिकार होते हैं।
बिरादर ने कहा कि सडक़ दुर्घटनाओं से बिना वजह जान-नुकसान होकर राष्ट्र का विकास, मूलभूत सुविधाएं, मानव संसाधन कम होते हैं। वाहन चलाने से पहले वाहन में वाहन बीमा, वाहन की स्थिति, हेलमेट, सीटबेल्ट, प्रथम चिकित्सा बॉक्स आदि होने की पुष्टि चालकों को कर लेना चाहिए। सडक़ यातायात नियमों का पालन करते हुए अपनी जान के साथ-साथ अन्यों की जान भी बचाना सबका कर्तव्य है।
धारवाड़ यातायात पुलिस थाने के निरीक्षक मुरुगेश चेण्णन्नवर ने कहा कि सडक़ सुरक्षा नियमों की अनदेखी के कारण अधिक हादसे हो रहे हैं। सडक़ नियमों का पालन नहीं करने के कारण प्रतिदिन 38 0 से अधिक सडक़ हादसे हो रहे हैं।
विभागीय तकनीकी अधिकारी राधाकृष्ण ने कहा कि सजग होकर हमें वाहन चलाना चाहिए। हम तेजी से तथा लापरवाही से वाहन चलाने से अनमोल जान गंवाते हैं।
कार्यक्रम में एनडब्लूकेआरटीसी के विभागीय परिवहन नियंत्रण अधिकारी राजेंद्र बी. रूगे, धारवाड़ राजस्व निरीक्षक पी.एम. हिरेमठ, धारवाड़ बस स्टैण्ड के नियंत्रण अधिकारी एस.आर. अदरगुंची, डी.एफ. नायकर, हास्य कलाकार मल्लप्पा होंगल, विविध विभागों के अधिकारी तथा आमजन मौजूद थे।
सूचना एवं सार्वजनिक संपर्क विभाग के सूचना सहायक अधिकारी सुरेश हिरेमठ ने अतिथियों का स्वागत किया। कलासमूह के प्रमुख एस.एस. हिरेमठ ने कार्यक्रम का संचालन किया तथा अंत में आभार व्यक्त किया। कुंदगोळ तालुक के हर्लापुर गांव के युवजन तथा सांस्कृतिक विकास केन्द्र कला समूह की ओर से नुक्कड़ नाटक तथा सुल्तानपुर गांव के जानपद फाउंडेशन कला समूह की ओर से जानपद संगीत से सडक़ नियमों का पालन करने संबंधित जनजागरूकता कार्यक्रमों को आगामी 19 जनवरी तक धारवाड़ जिले के विविध तालुक केन्द्र तथा विभिन्न आवासीय इलाकों में प्रस्तुत किए जा रहे हैं।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned