विजयवाड़ा में एड्स इंजेक्शन को लेकर फैली यह अफवाह

विजयवाड़ा में एड्स इंजेक्शन को लेकर फैली यह अफवाह

Brijesh Singh | Updated: 10 Jul 2019, 09:25:13 PM (IST) Hyderabad, Hyderabad, Andhra Pradesh, India

AIDS : विजयवाड़ा पुलिस ने एड्स इंजेक्शन ( AIDS Injection ) लगाने वाले आतंकवादियों के बारे में चेतावनी देने वाली एक वायरल सोशल मीडिया ( Viral Social Media ) रिपोर्ट को पूरी तरह से झूठा करार दिया है।

हैदराबाद, ( खालिद मोईनुद्दीन )। विजयवाड़ा पुलिस ( vijayawada police ) ने एड्स इंजेक्शन ( AIDS Injection ) लगाने वाले आतंकवादियों के बारे में चेतावनी देने वाली एक वायरल सोशल मीडिया रिपोर्ट ( viral social media Post ) को पूरी तरह से झूठा करार दिया है। साथ ही लोगों से ऐसी अफवाहों पर विश्वास न करने की अपील भी की है। आंध्रप्रदेश में तेलुगु में एक नोटिस की तस्वीरें फेसबुक पर वायरल हो रही हैं, जो लोगों को पेनिसिलिन और विटामिन इंजेक्शन के नाम के बहाने एड्स इंजेक्शन लगाने वाले आतंकवादियों से आगाह कर रही है। यह नोटिस विजयवाड़ा सिटी पुलिस ( Vijayawada City Police ) के नाम से वायरल हो रही है, जो लोगों को किसी भी अजनबी से इंजेक्शन लगाने की अनुमति न देने के लिए कहती है।

इस नोट में आगाह किया गया है कि कुछ आतंकवादी सरकारी अस्पताल के अधिकारियों के भेष में लोगों को पेनिसिलिन ( Pencilin ) और विटामिन इंजेक्शन लेने के लिए लोगों को मना रहे हैं, लेकिन वे वास्तव में एड्स ( AIDS ) वायरस का प्रशासन कर रहे हैं। इस तरह के नोट के बड़ी संख्या में प्रसारित होने के बाद जब खबर प्रशासन तक पहुंची, तो सभी हड़बड़ा गए। कुछ लोगों ने तो विजयवाड़ा के पुलिस आयुक्त द्वारका तिरुमाला राव ( Tirumala Rao ) से संपर्क किया गया, तो उन्होंने इस रिपोर्ट को सरासर झूठ बताया है। उन्होंने लोगों से ऐसे संदेशों पर विश्वास न करने और उन्हें शेयर न करने की अपील करने के साथ ही शांति बनाए रखने की भी अपील की है।

 

आंध्र प्रदेश से जुड़ी ताजातरीन खबरों के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned