Coronavirus: आंध्र प्रदेश में स्थानीय निकाय चुनाव स्थगित, EC के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची जगन सरकार

Coronavirus: चुनाव आयुक्त रमेश कुमार ने स्पष्ट किया कि ये चुनाव प्रक्रिया को रद्द नहीं किया गया है बल्कि (Andhra Pradesh News) केवल (Andhra Pradesh local Body Elections Postponed Due To Coronavirus) स्थगित की गई (Andhra Pradesh Government) है (Andhra Pradesh News In Hindi) ...

By: Prateek

Published: 16 Mar 2020, 07:45 PM IST

नेल्लोर: केंद्र सरकार द्वारा कोरोना वायरस को राष्ट्रीय आपदा घोषित किए जाने के बाद आंध्र प्रदेश चुनाव आयोग की ओर से छह सप्ताह तक स्थानीय निकाय चुनाव प्रक्रिया स्थगित कर दी गई है। चुनाव आयुक्त रमेश कुमार ने यह घोषणा की। उन्होंने बताया कि अब तक संपन्न हुई चुनाव प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं होगा और केवल वही चुनाव स्थगित किए गए हैं जो अभी होने हैं। उन्होंने बताया कि उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक के बाद ही चुनाव स्थगित करने का निर्णय लिया गया है।

 

समीक्षा के बाद लिया जाएगा फैसला...

जेडपीटीसी, एमपीडीसी चुनाव में निर्विरोध चुने गए उम्मीदवार बने रहेंगे और चुनाव नियमावाली की प्रक्रिया निरंतर चलती रहेगी। चुनाव आयुक्त रमेश कुमार ने स्पष्ट किया कि ये चुनाव प्रक्रिया को रद्द नहीं किया गया है बल्कि केवल स्थगित की गई है। उन्होंने कहा कि छह सप्ताह के बाद चुनाव कराए जाएंगे। उन्होंने बताया कि स्थगन अवधि खत्म होने के बाद समीक्षा करने के बाद ही पंचायती चुनाव का शेड्यूल जारी किया जाएगा।

 

सुप्रीम कोर्ट पहुंची सरकार...

चुनाव आयोग के फैसले को आंध्र प्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। चुनाव प्रक्रिया को बरकरार रखने का आदेश देने की अपील करते हुए राज्य सरकार ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। सरकार ने चुनाव आयुक्त रमेश कुमार के फैसले को संविधान के खिलाफ बताते हुए इस आदेश को खारिज करने की मांग की है। याचिका पर सुनवाई की तारीख मंगलवार तय की गई है। सरकार इस बात को लेकर चिंतित है कि चुनाव प्रक्रिया इस महीने की 31 तारीख के भीतर पूरी नहीं होने की स्थिति में स्थानीय निकायों को केंद्र से मिलने वाली 14वें वित्त आयोग की करीब 5 हजार करोड़ रुपए की रकम से वंचित रहना पड़ेगा। सरकार का मानना है कि राज्य चुनाव आयुक्त के निर्णय से राज्य का नुकसान होना लगभग तय है।

 

यह था चुनावी प्रक्रिया का शेड्यूल...

जेडपीटीसी और एमपीटीसी

7 मार्च को अधिसूचना जारी की गई। 9 मार्च को नामांकन पत्र स्वीकार किये जाएंगे। 12 को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। 14 तक नामांकन पत्र वापस लिये जाएंगे। 21 को चुनाव होंगे। 24 मार्च को मतगणना होंगी।

 

नगरपालिका चुनाव

9 मार्च को अधिसूचना जारी की जाएगी। 11 से 13 मार्च तक नामांकन पत्रों को स्वीकार किये जाएंगे। 14 को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। 16 तक नामांकन पत्र वापस लिये जाएंगे। 23 को चुनाव होंगे। 17 मार्च को मतगणना होगी।

ग्राम पंचायत प्रथम चरण

15 मार्च को अधिसूचना जारी होगी। 17 से 19 मार्च तक नामांकन पत्र स्वीकार किये जाएंगे। 20 को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। 22 तक नामांकन पत्र को वापस लिया जाएगा। 27 मार्च को चुनाव होंगे और उसी दिन परिणाम घोषित किये जाएंगे।

ग्राम पंचायत दूसरा चरण

17 मार्च को अधिसूचना जारी की जाएगी। 19 से 21 मार्च तक नामांकन पत्र स्वीकार किये जाएंगे। 22 नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। 24 तक नामांकन पत्र वापस लिये जाएंगे। 29 मार्च को चुनाव होंगे और उसी दिन परिणाम घोषित किये जाएंगे।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned