scriptJagan releases 81 cr for YSR Kalyanamasthu, Shadi Tohfa | जगन ने वाईएसआर कल्याणमस्तु, शादी तोहफा के लिए 81 करोड़ जारी किए | Patrika News

जगन ने वाईएसआर कल्याणमस्तु, शादी तोहफा के लिए 81 करोड़ जारी किए

locationहैदराबादPublished: Nov 25, 2023 05:47:16 pm

Submitted by:

Rohit Saini

जुलाई-सितंबर 2023 तिमाही के दौरान विवाहित महिलाओं को लाभान्वित करने के लिए चौथी किश्त जारी

जगन ने वाईएसआर कल्याणमस्तु, शादी तोहफा के लिए 81 करोड़ जारी किए
जगन ने वाईएसआर कल्याणमस्तु, शादी तोहफा के लिए 81 करोड़ जारी किए
विजयवाड़ा . मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने जुलाई-सितंबर 2023 तिमाही के दौरान विवाहित महिलाओं को लाभान्वित करने के लिए वाईएसआर कल्याणमस्तु और वाईएसआर शादी तोहफा की चौथी किश्त के लिए 81.64 करोड़ जारी किए।
ताडेपल्ली कैंप कार्यालय से राशि जारी करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना का उद्देश्य गरीब एससी, एसटी, बीसी, अल्पसंख्यक समुदायों, निर्माण श्रमिक परिवारों और विकलांगों की लड़कियों को उनकी शिक्षा को आगे बढ़ाने में मदद करना है।
10,511 जोड़ों को लाभान्वित करने वाली राशि सीधे उनकी माताओं के बैंक खातों में जमा की जाएगी। योजना के तहत अब तक 46,062 लाभार्थियों को कुल 348.84 करोड़ रुपये वितरित किए जा चुके हैं।
राज्य सरकार ने योजना के लिए पात्र बनने के लिए लड़कियों और उनके दूल्हों के लिए दसवीं कक्षा अनिवार्य कर दी है और लड़कियों और लडक़ों के लिए विवाह की आयु सीमा क्रमश: 18 और 21 वर्ष तय की है।
ये स्थितियां, विद्या दीवेना, वासथी दीवेना और अम्मा वोडी जैसी अन्य कल्याणकारी योजनाओं के साथ मिलकर, लड़कियों को बाल विवाह से बचने, स्कूल छोडऩे की दर को कम करने और स्कूलों में जीआरई (सकल नामांकन अनुपात) बढ़ाने के अलावा कॉलेज स्तर पर भी अपनी शिक्षा जारी रखने में मदद करती हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह खुशी की बात है कि 10,511 लाभार्थियों में से 8,042 लड़कियों को अम्मा वोडी, वसाथी दीवेना और विद्या दीवेना का लाभ भी मिला है, जो दर्शाता है कि उनमें से अधिकांश कॉलेज की शिक्षा प्राप्त कर रही हैं।
उन्होंने कहा कि टीडीपी सरकार ने नाम मात्र के लिए योजना लागू की और 17,709 लड़कियों को धोखा दिया, वहीं वर्तमान सरकार ने इसे अच्छे इरादे से पेश किया और प्रतिबद्धता के साथ इसे लागू कर रही है।
उन्होंने कहा कि टीडीपी शासन के दौरान एससी, एसटी, बीसी और अल्पसंख्यक लाभार्थियों को क्रमश: 40,000, 50,000, 35,000 और 50,000 रुपए मिलते थे। वर्तमान सरकार ने इसे बढ़ाकर 1,00,000, 1,00,000, 50,000 और 1,00,000 रुपए कर दिया है।

ट्रेंडिंग वीडियो