फर्नीचर चोरी के आरोप से सदमे में थे पूर्व स्पीकर कोडेला... और लगा ली फांसी

फर्नीचर चोरी के आरोप से सदमे में थे पूर्व स्पीकर कोडेला... और लगा ली फांसी
फर्नीचर चोरी के आरोप से सदमे में थे पूर्व स्पीकर कोडेला... और लगा ली फांसी

arun Kumar | Updated: 16 Sep 2019, 10:23:09 PM (IST) Hyderabad, Hyderabad, Andhra Pradesh, India

Kodela Siva Prasad Death: आंध्र प्रदेश के विधानसभा के पूर्व स्पीकर (Speaker) कोडेला शिवा प्रसाद (Kodela Siva Prasad) की सोमवार को बसवा तरकरामा अस्पताल में मौत हो गई। इससे पूर्व उन्होंने अपने अपने आवास पर आत्महत्या (Sucide) की कोशिश की थी।

हैदराबाद. आंध्र प्रदेश के विधानसभा के पूर्व स्पीकर कोडेला शिवा प्रसाद की सोमवार को बसवा तरकरामा अस्पताल में मौत हो गई। इससे पूर्व उन्होंने अपने अपने आवास पर आत्महत्या की कोशिश की थी। उनको हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। शिवा प्रसाद और आंध्र प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी के बीच काफी तनाव बना हुआ था। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है। कोडेला शिवा प्रसाद तेलुगु देशम पार्टी के वरिष्ठ नेता थे, विभाजन के पहले आंध्र प्रदेश राज्य के मंत्री भी रह चुके हैं। कोडेला पर विधानसभा से फर्नीचर चुराने का आरोप लगा था।

भ्रष्टाचार के आरोपों से जूझ रहा था परिवार

कोडेला का परिवार भ्रष्टाचार और अनियमितताओं से जूझ रहा था। वाईएसआर कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद उनके बेटे और बेटी के खिलाफ मामले दर्ज किए गए थे। कोडेला पर असेंबली के फर्नीचर चोरी करने का आरोप था। राजनीति के दिग्गजों को यह सुनकर हैरानी हुई कि पूर्व मंत्री, पूर्व स्पीकर शिवा प्रसाद ने आत्महत्या कर ली है।

जगनमोहन ने संवेदना जताई

मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने कोडेला की मौत पर गहरा दुख जताया है और शोक संतप्त परिवार से संवेदना जताई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोडेला शिवा प्रसाद 1983 से राजनीति में सक्रिय थे और एक लोकप्रिय डॉक्टर भी थे। ईश्वर उनकी आत्माको शांति दे।

कोडेला की मौत को हत्या है

 

टीडीपी के विजयवाड़ा से सांसद केसिनेनी नानी ने कोडेला की मौत को हत्या करार दिया है। एक ट्वीट में नानी ने लिखा, यह कोई खुदकुशी नहीं है बल्कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन के द्वारा की गई हत्या है।

भगवान उन्हें शांति प्रदान करे

आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू ने संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि मैं कोडेला की मृत्यु को सहन करने में असमर्थ हूं। वे चिकित्सा पेशे में शामिल हुए और सबसे लोकप्रिय नेता के रूप में उभरे। वह पार्टी और लोगों के लिए एक प्रेरणा थे। मैं उनके परिवार के सदस्यों के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। भगवान से प्रार्थना करता हूं कि वह उन्हें शांति प्रदान करे।

पुलिस कर रही पड़ताल

वेस्ट जोन के पुलिस उपायुक्त ने कहा कि कोडेला को अस्पताल मृत लाया गया था। उनके परिवार के सदस्यों ने पुलिस को सूचित किया कि कोडेला ने फांसी लगाकर खुदकुशी करने की कोशिश की और उन्हें कैंसर अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया। डॉक्टरों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने उन्हें बचाने की कोशिश की लेकिन नहीं बचा सके। डीसीपी का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद ही आत्महत्या की पुष्टि हो सकती है। उस्मानिया मुर्दाघर में पोस्टमार्टम किया जाएगा। धारा 174 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned