VIDEO:वाईएसआर कांग्रेस प्रमुख जगन मोहन रेड्डी की सभा के बाद बेकाबू हुए पार्टी कार्यकर्ता, CISF जवानों ने जमकर भांजी लाठियां

अन्य राज्य जहां केवल लोकसभा के लिए ही चुनाव होने है उनकी अपेक्षा राज्य में राजनीतिक पारा ज्यादा गरम है...

 

By: Prateek

Published: 04 Apr 2019, 01:37 PM IST

(हैदराबाद): चुनावी मौसम में पूरे देश में राजनीकि हलचल बढ गई है। सभी पार्टियां अपने प्रत्याशियों के लिए जोर-शोर से प्रचार में जुट गई है। इसी क्रम में राज्य की मुख्य पार्टी बनकर उभरी वाईएसआर कांग्रेस के लिए खुद पार्टी प्रमुख वाईएस जगन मोहन रेड्डी प्रचार कर रहे है। बुधवार को रेड्डी ने मयलवरम में सभा की। सभा खत्म होने के बाद पार्टी कार्यकर्ता उनके काफिले के पीछे दौड़ने लगे। हालात बिगड़ता देख वहां तैनात CISF के जवानों ने भीड़ को काबू करने के लिए लाठीचार्ज कर दिया। इससे भगदड़ मच गई। इस घटना का वीडियो सामने आया है। यह वीडियो जमकर वायरल हो रहा है।

 

मिली जानकारी के अनुसार जगन मोहन रेड्डी की सभा खत्म होने के बाद पार्टी कार्यकर्ता उनके पीछे दौडने लगे। बताया जा रहा है कि सभी जगन मोहन रेड्डी से मिलना चाहते थे। एकाएक लोग जब भागने लगे तो हालात बिगड़ गए। सभा स्थल पर बड़ी संख्या में CISF के जवान तैनात थे। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए उन्हें लाठी चार्ज करना पड़ा। वाईएसआर कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर CISF जवानों ने जमकर लाठियां भांजी। चारों तरफ भगदड़ मच गई। लोग अपनी जान बचाकर भागते दिखाई दिए। भागने से धूल के गुब्बार उड़ते दिखाई दिए। सुरक्षाबलों की लाठियां चटकते देख कार्यकर्ता काबू में आए। थोड़ी ही देर बाद जहां भगदड़ थी वहां सब कुछ सामान्य हो गया। इस लाठीचार्ज में किसी को ज्यादा क्षति पहुंचने की ख़बर अभी तक सामने नहीं आई है। वाईएसआर कांग्रेस पार्टी या वाईएस जगन मोहन रेड्डी की तरफ से भी इस घटना को लेकर अभी तक कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।


बता दें कि आंध्रप्रदेश में विधानसभा की 175 सीटों के साथ ही लोकसभा की 25 सीटों पर चुनाव होने है। अन्य राज्य जहां केवल लोकसभा के लिए ही चुनाव होने है उनकी अपेक्षा राज्य में राजनीतिक पारा ज्यादा गरम है। वाईएसआर कांग्रेस की तरफ से विधानसभा के 175 और लोकसभा के 25 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे गए है। वाईएसआर कांग्रेस का मुख्य मुकाबला सत्ताधारी टीडीपी से है। राज्य की 175 विधानसभा और 25 लोकसभा सीटों के लिए लोकसभा चुनावों के पहले चरण में 11 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned