तिरुपति बालाजी मंदिर में पहले 8 जून से होगा ट्रायल, उसके बाद श्रद्धालु यूं कर सकेंगे दर्शन

केंद्र सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन में भी 8 जून से (Tirupati Balaji Temple) मंदिरों (When Tirupati Balaji Temple Will Open For Devotees) को खोले जाने की बात कही (Tirupati Balaji Temple To Open On 8 June 2020) है (Andhra Pradesh News)...

By: Prateek

Published: 03 Jun 2020, 04:05 PM IST

(तिरुपति): चार चरण के लॉकडाउन से गुजरने के बाद 1 जून से अनलॉक 0.1 का दौर शुरू हुआ। इसी के साथ भक्तों में भी आशा जगी कि वह मंदिर खुलने के बाद भगवान के दर्शन कर सके। केंद्र सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन में भी 8 जून से मंदिरों को खोले जाने की बात कही है। इसी बीच आंध्र प्रदेश के बड़े मंदिरों को खोले जाने की तैयारियां शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें: TIK TOK को लेकर कोर्ट ने कहा- 'अश्लील कल्चर बढ रहा, ऐप पर लगे लगाम', जानिए क्या है पूरा मामला


देश के प्रमुख मंदिरों में शुमार आंध्र प्रदेश के तिरुमला तिरुपति मंदिर को खोलने के लिए विशेष योजना बनाई गई है। मंदिर के कपाट 8 जून से ही खुलेंगे। लेकिन श्रद्धालुओं को तीन दिन बात प्रवेश दिए जाएंगे। इस बीच मंदिर में ट्रायल चलेगा। फिलहाल मंदिर में सैनिटाइजेशन किया जा रहा है। इसी के साथ सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने के लिए निशान बनाए जा रहे है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली दंगों पर खर्च हुए 1.3 करोड़ रुपए, चार्जशीट में पुलिस ने ताहिर हुसैन को बताया मास्टर माइंड

टीटीडी चेयरमैन वाईवी सुब्बारेड्डी ने बताया कि कोरोना लॉकडाउन के कारण दो महीने से अधिक समय से बंद था। केंद्र सरकार अनुमति के आंध्र प्रदेश सरकार ने भी हाल ही में तिरुमला तिरुपति मंदिर को फिर से खोलने की मंजूरी दे दी है। इसलिए तीन दिन के ट्रायल के दौरान यह देखा जाएगा कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन टीटीडी कर्मचारी और स्थानीय लोग किस तरह करते हैं, अगर उचित तरह से यह सब संभव हुआ तो अधिकारियों के आदेश पर सभी भक्तों को दर्शन करने का अवसर दिया जाएगा। हरेक भक्त को सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के साथ ही सैनिटाइजेशन भी करना होगा।

यह भी पढ़ें: 5 जून से 14 दिन के लिए क्वारंटाइन होंगे महाप्रभु जगन्नाथ, सदियों से दे रहे हैं बीमारी में अलग रहने का संदेश

ऑनलाइन बुकिंग के बाद ही होंगे दर्शन...

सुब्बारेड्डी ने बताया कि ऑनलाइन टिकट बुक करवाने वाले श्रद्धालुओं को ही दर्शन की अनुमति दी जाएगी। तिरुमला पर्वत पर जाने से पहले अलीपिरी में थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही तीर्थयात्रियों को आगे जाने की अनुमति दी जाएगी। दर्शन टिकट की ऑनलाइन बुकिंग फिलहाल नहीं खोली गई है। ट्रायल सफल होने के बाद ही इसे खोला जाएगा।

भोजन प्रसादी नहीं मिल पाएगी...

अधिकारियों का कहना है कि एक दिन में 8 हजार श्रद्धालुओं को ही नियमों के अनुसार दर्शन करवा सकेंगे। मंदिर में चलने वाले भोजन प्रसादी का लाभ भी श्रद्धालु नहीं लो पाएंगे। हालांकि भक्तों को लड्डू प्रसादी मिले इसके लिए व्यवस्था करने की बात कही गई है। तिरुमला में श्रीवारी पुष्करणी में भक्तों को स्नान करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। बालाजी के दर्शन के लिए देशभर से भक्त आते हैं पर हर किसी को कोरोना पर केंद्र द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों का पालन करना जरूरी होगा। गौरतलब है कि आम दिनों में कोरोना संकटकाल से पहले प्रति दिन देश—विदेश के 80 हज़ार से 1 लाख तक भक्त दर्शन करने के लिए आते थे।

आंध्र प्रदेश की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

coronavirus
Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned