पुलिस को बड़ी कामयाबी, हवाला रैकेट का भंडाफोड़, करोड़ों की भारतीय मुद्रा और हजारों अमरीकी डॉलर बरामद

नगद ले जाने की गुप्त सूचना मिलने के बाद विजयवाड़ा पुलिस कमिश्नर श्रीनिवास राव के आदेश पर (Vijayawada Police Busted hawala Racket And Seized 1.47 Crore Rupees) (Andhra Pradesh News) (Hyderabad News) (Vijayawada News)...

By: Prateek

Updated: 08 Sep 2020, 09:09 PM IST

(नेल्लोर): आंध्र प्रदेश की विजयवाड़ा पुलिस ने एक बड़ी कामयाबी हासिल की है। पुलिस ने हवाला रैकेट का पर्दाफाश करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इनसे बड़ी मात्रा में नकद बरामद किया गया है।

यह भी पढ़ें: WHO की चेतावनी: Coronavirus को आखिरी महामारी ना समझे, बड़े संकट के लिए रहे तैयार!

नगद ले जाने की गुप्त सूचना मिलने के बाद विजयवाड़ा पुलिस कमिश्नर श्रीनिवास राव के आदेश पर मंगलवार को भीमावरम पुलिस थाना क्षेत्र में गुल्लापुन्डी के पास वाई जंक्शन पर वाहनों की जाँच की जा रही थी। इस दौरान एक कार को रोका गया। इसमें सीट के अंदर विशेष बक्से बना कर भरी मात्रा में नकदी ले जाई जा रही थी। नगद के साथ पकड़े गए चार लोगों से पुलिस ने पूछताछ शुरू कर दी है। इसमें कईं खुलासे हुए।

यह भी पढ़ें: Pakistani women journalist की balochistan में गोली मारकर हत्या, पति ने इस लिए उठाया खौफनाक कदम

विजयवाड़ा पुलिस कमिश्नर ने बताया कि पश्चिम गोदावरी ज़िले के नर्सपुराम के रहने वाले सी.आनंदराव और सी.हरिबाबू दोनों भाई कुछ सालों से नर्सपुराम में देवी जेवेल्लेर्स मार्ट में काम कर रहे हैं। दुकान मालिक प्रवीण जैन ने इन दोनों को 50 लाख नकद और 34 हज़ार की विदेशी मुद्रा (अमरीकी डॉलर) देकर विजयवाड़ा के अन्य चार लोगों के पास से 50 लाख रूपए नकदी लेकर हैदराबाद में रहने वाले प्रवीण जैन के भाई कीर्ति जैन के पास पहुँचाने को कहा था। इसी दौरान पुलिस ने उन्हें जाँच के दौरान दबोच लिया। इनसे 1 करोड़ 47 लाख की भारतीय मुद्रा और 34 हज़ार अमरीकी डॉलर बरामद किया गया है। विजयवाड़ा पुलिस ने आरोपियों को भीमावरम पुलिस को सौंप दिया। नगदी का हवाला कनेक्शन जांचने और यह पैसा कहां से आता था और कहां इसका लेनदेन कहां होता था यह पता लगाने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ई.डी) भी काम में लग गया है।

यह भी पढ़ें: ऑनलाइन पढ़ाई के बहाने मोबाइल में पब्जी गेम खेल 71 हजार उड़ाए

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned