'वही दूसरों की मदद कर सकता हैं, जो दर्द के एहसास को समझता हैं।'

'वही दूसरों की मदद कर सकता हैं,
जो दर्द के एहसास को समझता हैं।'
(Hyderabad News ) फिल्म अभिनेता सोनू सूद (Actor Sonu Sood ) के दिल में वह दर्द अभी जिंदा (Pain is alive in heart of Sonu sood ) है। दर्द का यही एहसास उन्हें दूसरों के दर्द को साझा करके सुकून पहुंचाता है । सोशल मीडिया पर शारदा की दास्तां बयान हुई तो सोनू ने मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा दिया।

हैदराबाद(तेलंगाना): 'वही दूसरों की मदद कर सकता हैं,
जो दर्द के एहसास को समझता हैं।'
(Hyderabad News ) फिल्म अभिनेता सोनू सूद (Actor Sonu Sood ) के दिल में वह दर्द अभी जिंदा (Pain is alive in heart of Sonu sood ) है कि अभिनेता बनने के लिए कैसे संघर्ष भरे दिन उन्होंने बिताए हैं। दर्द का यही एहसास उन्हें दूसरों के दर्द को साझा करके सुकून पहुंचाता है। एहसास की इसी कड़ी सोनू की मदद का दरिया एक बार फिर खुल गया। हैदराबाद में बीटेक पास करने के बाद सब्जी बेच रही शारदा (Sonu Sood helped vegetable vender girl ) की कहानी भी उने सैकड़ों मजदूरों और किर्गिस्तान में एमबीबीएस करने वाले छात्रों की तरह है। जिनकी गुहार पर सोनू का दिल दरिया हो उठा। सोशल मीडिया पर शारदा की दास्तां बयान हुई तो सोनू ने मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा दिया।

नौकरी छूटी तो सब्जी का ठेला लगाया
निम्न मध्यमवर्गीय परिवार से आने वाली शरदा ने बड़ी मुश्किल से बीटेक की पढ़ाई पूरी की। फिर जब पहली नौकरी मिली तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। तीन महीने की ट्रेनिंग चली इसके बाद सीधे प्रोजेक्ट पर काम करना था। इसी बीच हैदराबाद में कोरोना वायरस को लेकर बंदी का दौर शुरू हो गया। एक महीने तो किसी तरह चला। इसके बाद कंपनी ने शारदा को टका सा जवाब दे दिया कि प्रोजेक्ट नहीं मिल रहे इसलिए सैलरी नहीं दे सकते। मजबूरन शारदा को फुटपाथ पर सब्जी का ठेला लगाकर परिवार का सहारा बनना पड़ा।

तोहफे में मिला ट्रेक्टर
बीटेक होने के बावजूद सब्जी का ठेला लगाने की शारदा की यह त्रासदी सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। किसी ने अभिनेता सोनू सूद के ट्विटर हैंडल पर टैग कर शारदा की मदद की गुहार लगाई तो तत्काल इसका सकारात्मक जवाब भी मिला। सूद ने अपने दफ्तर से ही शारदा के लिए नौकरी का ऑफर भिजवा दिया। इससे एक दिन पहले ही अभिनेता सोनू सूद ने चित्तूर जिले के केवीपल्ली मंडल के महल गांव निवासी किसान नागेश्वर राव का नया ट्रेक्टर तोहफे में भिजवा दिया।

मार्शल आर्ट वाली बुजुर्ग महिला को मदद का आश्वासन
नागेश्वर और उसकी दो बेटी और पत्नी के साथ खेत में काम करने का वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें उसकी दो बेटियों को हल खींचते और पत्नी को बीज डालते हुए दिखाया गया। इसकी जानकारी मिलने पर सोनू सूद ने नागेश्वर का नया ट्रेक्टर दिला दिया। इसी क्रम में एक बुजुर्ग महिला द्वारा जीवन यापन के लिए सड़क किनारे मार्शल आर्ट करते हुए एक वायरल वीडियो हुआ। इसकी जानकारी मंगा कर सोनू सूद और अभिनेता रितेश देशमुख ने बुजुर्ग महिला को मदद का भरोसा दिलाया है। बुजुर्ग महिला मार्शल आर्ट का स्कूल खोलना चाहती है।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned