कभी सबसे धनी व कंजूस माने गए हैदराबाद निजाम को था यह विचित्र शौक...

(Telangana News ) भारत में राजे रजवाड़ों-नवाबों की बेहिसाब दौलत की कहानियां अब भी सुनी जाती हैं। इसमें सबसे ज्यादा ठाट-बाट और धन-दौलत हैदराबाद के निजाम (Nizam of Hyderabad ) के पास थी। निजाम उस्मान अली दुनिया का सबसे धनी शख्स भी रहा लेकिन उतना ही कंजूस भी। उसे मेहमानों के कमरे में (Nizam Hyderabad installed hidden camers for porno pics ) कैमरे छिपाकर उनकी सेक्स लाइफ देखने का भी अजीब शौक था।

हैदराबाद(तेलंगाना): (Telangana News ) भारत में राजे रजवाड़ों के पास अकूत संपत्ति रही है। नवाबों की बेहिसाब दौलत की कहानियां अब भी सुनी जाती हैं। वो ऐश्वर्यभरी जिंदगी जीते थे। विदेशों में घूमते थे। कई बेगमें रखते थे। इसमें सबसे ज्यादा ठाट-बाट और धन-दौलत हैदराबाद के निजाम (Nizam of Hyderabad ) के पास थी। निजाम उस्मान अली दुनिया का सबसे धनी शख्स भी रहा लेकिन उतना ही कंजूस भी। उसे मेहमानों के कमरे में (Nizam Hyderabad installed hidden camers for porno pics ) कैमरे छिपाकर उनकी सेक्स लाइफ देखने का भी अजीब शौक था।

कमरों में कैमरे
यूं तो भारत में कई नवाब और राजसी परिवार हुए हैं लेकिन धन-दौलत में हैदराबाद के निजाम की बात ही निराली थी। अगर उनके पास दुनियाभर की सबसे ज्यादा संपत्ति थी तो उन्होंने मेहमानों के कमरों में छिपे कैमरे लगवा दिए थे, जिससे वो सेक्स का आनंद ले सकें। कहा जाता है कि उनके पास पोर्नो पिक्चर्स का सबसे बड़ा कलेक्शन था। हैदराबाद के निजाम उस्मान अली खान दुनिया के सबसे दौलतमंद शख्स थे लेकिन उनकी कंजूसी के किस्से भी खूब प्रचलित थे।

पोर्नो तस्वीरों का शौकिन
निजाम के बारे में कहा जाता है कि उसे पोर्नोग्राफिक तस्वीरें देखने का बहुत शौक था, उसने अपने महल और मेहमानों के कमरों में छिपे हुए कैमरे लगा रखा था, जिससे वो सेक्स को देखने का काम करता था। निजाम के पास पोर्नो पिक्चर्स का बहुत बड़ा कलेक्शन था। नवाब ने कई शादियां कीं. उसकी 86 रखैंलें थीं, जिससे उसे 100 से ज्यादा बेटे थे।

अश्लील तस्वीरों का भंडार
भारत की आजादी की गाथा लिखने वाले डोमिनीक लापिएर और लैरी कॉलिन्स अपनी किताब फ्रीडम ऐट मिडनाइट में लिखते हैं, "हैदराबाद के निज़ाम को फोटोग्राफी का और अश्लील चित्रों का बहुत शौक था। अपने ये दोनों शौक़ एक में मिलाकर उन्होंने हिन्दुस्तान में अश्लील चित्रों का सबसे बड़ा संग्रह जमा कर लिया था।"किताब में लेखक लिखते हैं, "इन तस्वीरों को जमा करने के लिए बूढ़े नवाब ने अपने मेहमानखाने की दीवारों और छतों में खुफिया कैमरे लगवा रखे थे जो उन कमरों में होने वाली एक-एक हरकत की तस्वीरें खींचते रहते थे।

बाथरूम में गुप्त कैमरा
महल के मेहमानखाने के बाथरूम के आइने के पीछे भी उन्होंने एक कैमरा लगवा रखा था। यह कैमरा हिन्दुस्तान की बड़ी-से-बड़ी हस्तियों की तस्वीरें निजाम के पाखाने में निवृत्त होने की मुद्रा में लेता रहता था। डेली मेल के अनुसार निजाम जब 1934 में ब्रिटेन गया, तो अपने जहाज से गया, जिसमें उसके हरम की सीनियर बेगमें भी थीं और साथ में ऊंची सामाजिक हैसियत वाली 300 औरतें।

आजादी पूर्व विश्व के सबसे धनी
निजाम अपनी दौलत का भी भरपूर प्रदर्शन करता था. उसने 04 अरब के एक नायाब हीरे को अपनी टेबल पर पेपरवेट बनाकर रखा हुआ था। मिलने वालों पर जब हीरे को पेपरवेट के रूप में देखते तो हैरान रह जाते थे। आजादी से पहले 1930 से लेकर 1940 तक उनके पास सबसे ज्यादा संपत्ति थी। 130 अरब की दौलत के साथ वो दुनिया के सबसे अमीर शख्स थे। हैदराबाद के निजाम मीर साहब को एक जमाने में "टाइम मैगजीन" ने दुनिया के सबसे दौलतमंद लोगों की सूची में पहला स्थान दिया था।

Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned