जिस मां के कदमों तले जन्नत बताई गई, उसका शव बेटा फुटपाथ पर छोड़ गया

(Telangana News ) कोरोना (Corona ) के भय और गरीबी ने रक्त संबंधों (Blood realtions ) के तार-तार कर दिया है। कोरोना से होने वाली मौतों के लिए कहीं रिश्तेदार नहीं मिल रहे तो कहीं श्मशान घाटों में मृतकों को बहिष्कार किया जा रहा है। कोरोना काल में इस सबके बीच एक ह्रदय विदारक घटना (Heart breaking ) सामने आई है। शास्त्रों में जिस मां के कदमों तले स्वर्ग बताया गया है, उसकी ऐसी दुर्दशा देख कर इस मार्मिक दृश्य को देख कर द्रवित हुए बगैर नहीं रह सके।

हैदराबाद(तेलंगाना): (Telangana News ) कोरोना (Corona ) के भय और गरीबी ने रक्त संबंधों (Blood realtions ) के तार-तार कर दिया है। कोरोना से होने वाली मौतों के लिए कहीं रिश्तेदार नहीं मिल रहे तो कहीं श्मशान घाटों में मृतकों को बहिष्कार किया जा रहा है। कोरोना काल में इस सबके बीच एक ह्रदय विदारक घटना (Heart breaking ) सामने आई है। संबंधों को शर्मसार करने वाली इस घटना में एक बेटे ने कंबल में लिपटे अपनी मां के शव को फुटपाथ पर रखा और चला गया। जिसने भी इसे देखा-सुना वह हैरत में पड़ गया। शास्त्रों में जिस मां के कदमों तले स्वर्ग बताया गया है, उसकी ऐसी दुर्दशा देख कर इस मार्मिक दृश्य को देख कर द्रवित हुए बगैर नहीं रह सके।

फुटपाथ पर रख कर चला गया
यह दर्दनाक घटना है हैदराबाद के बंजारा हिल्स इलाके की। जहां एक जवान बेटे ने अपनी मां की मृत्यु के बाद उसके शव को फुटपाथ पर रख दिया और वहां से चला गया। सड़क से गुजर रहे कुछ लोगों की नजर जब कंबल में लिपटी करीब 70 वर्षीय महिला पर पड़ी तो पाया कि उसकी मृत्यु हो चुकी है। जिसके बाद लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर महिला के परिवार वालों के बारे में छानबीन की तो सामने आया कि महिला का एक जवान बेटा है जो चौकीदारी करता है।

कोरोना के डर से छोड़ गया
जिसके बाद लोगों से पूछते हुए पुलिस महिला के बेटे तक पहुंच गई और उसे सारी बात बताई। लेकिन बेटे का जवाब सुनकर पुलिकर्मियों ने भी अपना माथा पकड़ लिया। चार दिन तक बुखार आने के बाद सड़क पर भीख मांगने वाले 70 साल की महिला की मौत हो गई थी। बेटे को डर था कि मां की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई है। बेटे ने बताया कि उसकी मां को पिछले चार दिन से तेज बुखार था, जिसके चलते उसकी मौत हो गई। बेटे ने आगे बताया कि आर्थिक तंगी के कारण उसके पास अपनी मां का अंतिम संस्कार करने के भी पैसे नहीं थे, जिस कारण उसने खुद ही अपनी मां को फुटपाथ पर छोड़ दिया था।

पुलिस ने कराया अंतिम संस्कार
यह भी पता चला कि वह अपने बेटे के साथ रहती थी जो एक अपार्टमेंट में चौकीदार है। उन्होंने कहा कि बेटे ने पुलिस को बताया कि उसके पास अंत्येष्टि के लिए पैसे नहीं थे और बुखार से मौत होने के कारण इमारत के मालिक उसके लिए समस्या खड़ी कर सकते थे, जिसके चलते उसने ऐसा कदम उठाया। पुलिस ने महिला का अंतिम संस्कार करवाया।

Corona virus
Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned