कोतवाली टीआई चुने गए जिले के पहले ‘कॉप आफ द मंथ’, योजना के पीछे एसपी का ये है उद्देश्य

Cop of the month: पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई है अभिनव पहल, हर माह पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की कार्यकुशलता को देखते हुए लिया जाएगा निर्णय

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 12 Aug 2020, 09:25 PM IST

सूरजपुर. जिले में पुलिस अधिकारी.कर्मचारी को उत्कृष्ट कार्यकुशलता के साथ जिम्मेदारियों का निर्वहन, कोविड 19 संक्रमण की रोकथाम हेतु किए गए बेहतर कार्य पर अब पुलिस अधीक्षक राजेश कुकरेजा ने प्रति माह जिले के एक पुलिस अधिकारी-कर्मचारी को ‘कॉप आफ द मंथ’ (Cop of the month) से नवाजे जाने का निर्णय लिया है। इसकी पहली कड़ी में कोतवाली टीआई नवाजे जाएंगे।


इस संबंध में सूरजपुर पुलिस अधीक्षक राजेश कुकरेजा ने बताया कि माह जुलाई में जिले के समस्त पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों के कार्यों का आंकलन किया गया। इसमें कोतवाली टीआई धर्मानंद शुक्ला का कार्य सबसे उत्कृष्ट पाया गया। इसके बाद उन्हें जिले का पहला कॉप आफ द मंथ (Cop of the month) के लिए चुना गया है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस योजना के तहत जिले के समस्त पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों का मूल्यांकन कर प्रत्येक माह एक पुलिस अधिकारी-कर्मचारी को ‘कॉप आफ द मंथ’ (Cop of the month) से सम्मानित किया जाएगा।

बीते जुलाई माह के कार्यों की समीक्षा पर पाया गया कि निरीक्षक धर्मानंद शुक्ला ने उत्कृष्ट कार्य कुशलता से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन किया।


कोरोना काल में भी प्रशासन के साथ डटे रहे
कोतवाली टीआई कोरोना संक्रमण की इस घड़ी में 24 घण्टे प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के साथ कदम से कदम मिलाकर डटे रहे। पुलिस अधीक्षक ने आशा व्यक्त की है कि जिले के अन्य पुलिस अधिकारी-कर्मचारी भी इससे प्रेरणा लेकर अपने-अपने क्षेत्रों में अच्छा कार्य करेंगे। (Cop of the month)

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned