... भिलाई इस्पात संयंत्र के यूआरएम में कर्मचारी ऊंचाई से गिरा, घायल

Abdul Salam

Updated: 15 Sep 2019, 11:41:20 AM (IST)

इंडियन रीजनल

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र Bhilai Steel Plant के यूनिवर्सल रेल मिल URM (यूआरएम) में शुक्रवार को करीब 3 बजे इलेक्ट्रिकल मेंटनेंस का काम चल रहा था। बीएसपी का ओसीटी आकाश गिदकर रेल वेल्डिंग लाइन के टिल्टिंग के पास वह ट्राली पर खड़े होकर इलेक्ट्रिकल मेंटनेंस काम में जुटा था। इस दौरान उसके गले के पास ठोकर लगी, जिससे वह गिर गया। इसके पास मौजूद कर्मियों ने एंबुलेंस बुलवाए और घायल को पहले मेन मेडिकल पोस्ट में लेकर आए, फिर सेक्टर-9 हॉस्पिटल घायल को रेफर किए। जहां गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में दाखिल किए हैं।

इस तरह हुई दुर्घटना

बीएसपी Bhilai Steel Plant में शुक्रवार को आकाश कुमार गिदकर, ओसीटी ( 35 साल) यूआरएम के रेल वेल्डिंग लाइन क्षेत्र में काम कर रहा था। कैंची लिफ्ट में बैठ कर टेल्फर का काम करते समय टेल्फर से शिफ्ट होने वाले रेल के पीस का टुकड़ा कैंची लिफ्ट से टकराया जिससे लिफ्ट टिल्ट हो गया और उसके फ्रेम से टकराने से कंधे में चोट लगी। दोपहर 3.40 बजे मेन मेडिकल पोस्ट (एमएमपी) में लाया गया। बाएं कंधे में दर्द और दाएं जबड़े में चोट लगी है। सेक्टर-9 के हॉस्पिटल में एक्स रे के लिए रैफर किए।

रेल को वैगन में लोड करते समय हुआ हादसा
कर्मचारी बता रहे हैं कि 260 मीटर रेल वैगन में लोड हो रहा था, उस दौरान क्रेन उसे उठाया हुआ था और टेल्फर मूवमेंट करते हुए आगे वैगन की ओर ले जा रहा था। इसी दौरान उसे चोट लगा।

इस तरह हुई दुर्घटना
बीएसपी के जनसंपर्क विभाग के मुताबिक आकाश कुमार गिदकर, ओसीटी, यूआरएम के रेल वेल्डिंग लाइन क्षेत्र में काम कर रहा था। कैंची लिफ्ट में बैठ कर टेल्फर का काम करते समय टेल्फर से शिफ्ट होने वाले रेल के पीस का टुकड़ा कैंची लिफ्ट से टकराया, जिससे लिफ्ट टिल्ट हो गया और उसके फ्रेम से टकराने से कंधे में चोट लगी। सेक्टर 9 के अस्पताल में एक्स-रे के लिए रैफर किए हैं।

सुरक्षा कागजों में हो रही मजबूत
बीएसपी में सुरक्षा व्यवस्था कागजों में मजबूत हो रही है। संयंत्र में गैस हादसा हो चुका है, जिसमें कई की जान चली गई। इसके बाद भी इस घटना पर विराम नहीं लग रहा है। बीएसपी के रेल स्ट्रक्चर मिल (आरएसएम) में 9 सितंबर 2019 की सुबह करीब 8.30 बजे गैस रिसाव हुआ। जिससे एक नियमित कर्मचारी शंकर राव को चक्कर आ गया। मौजूद अन्य कर्मचारियों ने उसे तुरंत संयंत्र के मेन मेडिकल पोस्ट (एमएमपी) लेकर गए। जहां से सेक्टर-9 हॉस्पिटल के लिए रेफर किए। जहां उसका इलाज किए। शंकर राव को जब चक्कर महसूस हुआ, तो उसने साथी कर्मचारियों को वहां से धकेल कर पीछे किया, जिससे दूसरे को गैस न लगे। इसके बाद खुद भी कुछ दूर लडख़ड़ाते पैर के साथ गया। तब उसे उल्टी हुई।

सेफ्टी कमेटी का गठन नहीं
बीएसपी में करीब 3 साल से सेफ्टी कमेटी का गठन नहीं हुआ है। जिसकी वजह से घटना के बाद न तो कारण को लेकर कोई चर्चा की जाती है और हादसे के बाद बड़ा सुधार देखने को मिल रहा है। यूनियन बार-बार सेफ्टी कमेटी गठन करने की मांग कर लौट जाती है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned