scriptManager, Phad in-charge and operator removed in case of paddy purchase | बोगस रकबा में धान क्रय के मामले में प्रबंधक, फड़ प्रभारी व ऑपरेटर हटाए गए | Patrika News

बोगस रकबा में धान क्रय के मामले में प्रबंधक, फड़ प्रभारी व ऑपरेटर हटाए गए

Published: Sep 06, 2022 08:46:50 pm

दर्जन भर से अधिक किसानों की सदस्यता की समाप्त

बोगस रकबा में धान क्रय के मामले में प्रबंधक, फड़ प्रभारी व ऑपरेटर हटाए गए
दर्जन भर से अधिक किसानों की सदस्यता की समाप्त,दर्जन भर से अधिक किसानों की सदस्यता की समाप्त,दर्जन भर से अधिक किसानों की सदस्यता की समाप्त
रायगढ़। लैलूंगा सेवा सहकारी समिति के अंतर्गत संचालित विरसिंघा सोसायटी में बोगस रकबा एंट्री कर लाखों की गड़बड़ी करने के मामले में उप पंजीयक सेवा सहकारी संस्थाए ने प्रबंधक, प्रहलाद बेहरा सहित फड़ प्रभारी व ऑपरेटर को समिति से हटा दिया है वहीं दर्जन भर से अधिक किसानों के पंजीयन को निरस्त किया गया है।
सेवा सहकारी समिति विरसिंघा में प्रबंधक प्रहलाद बेहरा, फड़ प्रभारी, ऑपरेटर व बिचौलियों के साथ सांठ-गांठ कर बोगस रकबे का पंजीयन का लाखों रुपए के धान की खरीदी दिखाकर गड़बड़ी की गई है। उक्त मामले में शिकायत के बाद हुई जांच में यह सारे तथ्य सामने आए हैं। किस तरह से से सब्जी उत्पादित होने वाले खसरे नंबर का एंट्री कर उसमें धान विक्रय दिखाया गया है। किसान को भुगतान दिखाकर किसान से उसी तिथी में राशि प्रबंधक के खाते में ट्रंासफर हुआ है इसके अलावा अन्य कई तरीके से गड़बड़ी की गई है। इस मामले उप पंजीयक सेवा सहकारी संस्थाए ने संज्ञान में लेकर कुछ दिनों पूर्व प्रबंधक सहित १९ लोगों को नोटिस जारी किया था। नोटिस का जवाब मिलने व जवाब का प्रतिपरीक्षण करने के बाद प्रबंधक, फड़ प्रभारी व ऑपरेटर को समिति से हटा दिया गया है। वहीं जिस बोगस रकबे का पंजीयन किया गया था उक्त रकबे के किसानों का पंजीयन निरस्त कर दिया गया है।
बोनस रोकवाने भी लिखा पत्र
बोनस राशि पाने के लालच में फर्जी तरीके से बोगस रकबा का पंजीयन कर यह खेल खेला गया है। जिसको देखते हुए समिति से हटाने की कार्रवाई के साथ ही साथ संबंधितों के खाते में बोनस राशि जारी न करने के लिए भी पत्र लिखा गया है।
वसूली की भी होगी कार्रवाई
जिस बोगस रकबे में खरीदी दिखाने के बाद धान का भुगतान हुआ है उसको लेकर उप पंजीयक सेवा सहकारी संस्थाए ने खाद्य विभाग को भी पत्र लिखा है जिसमें वसूली की कार्रवाई होगी।
वर्सन
समिति प्रबंधक, ऑपरेटर व फड़ प्रभारी को समिति से हटा दिया गया है। इसके बोनस राशि रोकने पत्र लिखा गया है। साथ ही वसूली के लिए भी प्रक्रिया चल रही है।
एसके गौड़, प्रभारी उप पंजीयक सेवा सहकारी संस्थाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.