Video :- 18 लाख से अधिक वोटर्स आज चुनेंगे सांसद, 2 हजार बूथो पर होगा मतदान

Vasudev Yadav

Publish: Apr, 22 2019 07:00:33 PM (IST)

इंडियन रीजनल

जांजगीर-चांपा. लोकसभा चुनाव के लिए मैदान में उतरे १५ प्रत्याशियों के किस्मत का बटन मंगलवार को ईवीएम में कैद हो जाएंगे। इस साल सुबह ७ से शाम ५ बजे तक वोटिंग होगा। जिसमें प्रत्याशियों की भाग्य का फैसला जनता जनार्दन करेंगे। इस बार भाजपा व कांग्रेस में संघर्ष के आसार नजर आ रहे है। चुनाव में सुरक्षा व्यवस्था के लिए नौक कंपनी के करीब तीन हजार जवान तैनात किए गए है।
लोकसभा का चुनावी शोर रविवार की शाम थम चुका था। इसके बाद से लेकर सोमवार को पूरे दिन प्रत्याशियों व उनके समर्थकों ने घर-घर जाकर अपने पक्ष में मतदान करने का आग्रह किया। जिले के सभी क्षेत्रों में आयोग की टीम के अलावा विशेष फोर्स तैनात है, जो चप्पे-चप्पे पर नजर रखे हुए है। २३ अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए आयोग व स्थानीय अमले ने सारी तैयारियां पूरी ली है। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा आठ विधानसभा क्षेत्रों के कुल २ हजार १७२ मतदान केन्द्रों में से ३८७ को संवेदनशील माना गया है। शेष १ हजार ७८५ केन्द्र सामान्य घोषित किया है। एक भी मतदान केन्द्र अतिसंवेदनशील नहीं है। मंगवाल को १८ लाख ९२ हजार ५३७ वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसके लिए दो बीएएफ व सात सीआरपीएफ कंपनी के अलावा कोटवार, पुलिस, नगरसैनिक समेत करीब ३ हजार जवानों की तैनाती की गई है। जिला निर्वाचन अधिकारी की उपस्थिति में सोमवार को सुबह ७ बजे जांजगीर के पालिटेक्निक भवन में व सक्ती के नंदेलीभाठा स्थित आईटीआई भवन से मतदान दलों को निर्वाचन सामाग्री प्रदान कर मतदान केन्द्रों के लिए रवाना किया गया। प्रदेश के तीसरे चरण लोकसभा चुनाव के तहत २३ अप्रैल को सुबह ७ से ५ बजे तक मतदान होगा।

प्रमाणित करने इनमें से एक दस्तावेज रखें
पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, केन्द्र राज्य सरकार, सार्वजनिक उपक्रम व निकाय द्वारा जारी फोटोयुक्त सेवा पहचान, बैंक, डाकघर द्वारा जारी किया गया फोटो पासबुक, पैन कार्ड, आधार कार्ड, स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जाब कार्ड, श्रम मंत्रालय के योजना अंतर्गत जारी किया गया स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज शामिल है।

पत्रिका अपील ! चुनाव तिहार में हो शामिल
लोकतंत्र का महापर्व में आज हिस्सेदारी लेने से न चुके। तमाम जरूरी कार्यो के बीच मतदान के लिए समय निकाले। आपका वोट देश के लिए विकास में बहुमूल्य योगदान देगा। बगैर किसी प्रलोभन स्वविवेक से अपने मताधिकार का प्रयोग करें।

यह आपको जानना है जरूरी
- मतदान समाप्ति का समय शाम ५ बजे निर्धारित है। इस दौरान कतार लगी रहती है। तो अंतिम से टोकन जारी किया जाएगा।
- किसी कारणवश मतदान केन्द्र में ईवीएम खराब होता है और एक घंटे का समय व्यर्थ हो जाता है तो अतिरिक्त समय नहीं मिलेगा। हालांकि ऐसी संभावना न के बराबर है।
- अगर किसी कारणवश बीएलओ से आपको फोटोयुक्त मतदान पर्ची नहीं मिल पाई है तो आप मतदान कर सकते है। इसके लिए आपको दस्तावेज दिखाना होगा। जो प्रमाणित करें कि आप मतदाता हो वह भी संंबंधित केन्द्र का।
- मतदान केन्द्र के २०० मीटर के दायरे में किसी भी पार्टी का दखल नहीं रहेगा। न ही पंडाल होगा।

जानिए पिछले चुनावी आंकड़े
- वर्ष २००४ में भाजपा के करूणा को मैदान में उतारा, जिसमें वे विजयी रही। उन्होंने कांग्रेस के डॉ. चरणदास महंत को पराजित किया। ० वर्ष २००९ में यह सीट परिसीमन के चलते अजा वर्ग के लिए आरक्षित हो गया, तब भाजपा ने यहां से कमला देवी पाटले को मैदान में उतारा और उन्होंने कांग्रेस के डा. शिवकुमार डहरिया को पराजित किया।
- वर्ष २०१४ में पार्टी ने दूसरी बार कमला देवी पाटले पर भरोसा जताया और दूसरी बार भी वे विजयी रही। उन्होंने कांग्रेस के प्रेमचंद जायसी को डेढ़ लाख से अधिक मतों से परास्त किया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned