script2.5 year old innocent crying at door mother hanged herself in room | मोबाइल नहीं मिलने पर महिला ने दी जान, दरवाजे पर बिलखती रही ढाई साल की मासूम | Patrika News

मोबाइल नहीं मिलने पर महिला ने दी जान, दरवाजे पर बिलखती रही ढाई साल की मासूम

बेटी को पति के साथ भेजकर महिला ने साड़ी का फंदा बनाकर की खुदकुशी...

इंदौर

Updated: September 23, 2022 07:01:00 pm

इंदौर. इंदौर में एक मां ने अपनी ढाई साल की मासूम बेटी को बिलखता छोड़ घर पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना शहर के हीरानगर इलाके की है। बताया जा रहा है कि घटना से कुछ देर पहले महिला ने चलाने के लिए पति से मोबाइल मांगा था क्योंकि पति दुकान पर जा रहा था इसलिए मना कर दिया। जिसके बाद महिला ने मासूम बेटी को भी पिता के साथ दुकान पर भेज दिया और घर में साड़ी का फंदा बनाकर खुदकुशी कर ली। घटना का पता उस वक्त चला जब महिला का देवर बच्ची को लेकर भाभी के पास छोड़ने आया। बिलखती मासूम और देवर दोनों दरवाजा पीटते रहे लेकिन महिला ने दरवाजा नहीं खोला। बाद में कमरे का दरवाजा तोड़ा गया तो घटना का पता चला।

indore_suicide.jpg

पति ने मोबाइल नहीं दिया तो दे दी जान
हीरानगर के मारूति नगर में रहने वाली सुनीता चौकसे उम्र 25 ने गुरुवार शाम करीब 4-5 बजे के बीच घर पर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरु की। पुलिस को घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। सुनीता के पति जितेन्द्र की घर के सामने ही पान की दुकान है। जिसने बताया कि गुरुवार दोपहर को खाना खाने के लिए घर आया था तब पत्नी सुनीता ने चलाने के लिए मोबाइल मांगा था लेकिन क्योंकि उसे दुकान पर वापस जाना था इसलिए उसने पत्नी को मोबाइल देने से मना कर दिया। खाना खाने के बाद पत्नी सुनीता ने ढाई साल की बच्ची कीर्ति को भी उसके साथ दुकान ले जाने के लिए कहा तो वो बेटी को साथ में लेकर दुकान पर चला गया। करीब एक घंटे बाद बच्ची कीर्ति रोने लगी तो पति जितेन्द्र ने सामने रहने वाले अपने छोटे भाई ओमप्रकाश को बुलाया और कीर्ति को मां के पास ले जाने के लिए कहा।

यह भी पढ़ें

'प्रताप मुझे चैन से जीने नहीं दे रहा इसलिए जान दे रही हूं' लिखकर लड़की ने दुपट्टे से लगाई फांसी



बिलखती बेटी और देवर पीटते रहे दरवाजा
देवर ओमप्रकाश भतीजी कीर्ति को लेकर घर के अंदर पहुंचा तो दरवाजा अंदर से बंद था उसने काफी देर तक दरवाजा खटखटाया लेकिन सुनीता ने दरवाजा नहीं खोला। इस दौरान बेटी कीर्ति भी मां से मिलने के लिए बिलख बिलख रो रही थी। देवर ओमप्रकाश ने बिल्डिंग में ही रहने वाले दूसरे लोगों से पूछा तो पता चला कि काफी देर से दरवाजा बंद है और किसी ने सुनीता को नहीं देखा है। जिसके बाद देवर ओमप्रकाश वापस दुकान पर पहुंचा और भाई जितेन्द्र को पूरी बात बताई। उन्होंने पड़ोसियों के साथ मिलकर घर का दरवाजा तोड़ा तो अंदर सुनीता फांसी के फंदे पर झूली हुई थी। सुनीता का मायका सीधी में हैं उसकी शादी करीब 6 साल पहले जितेन्द्र के साथ हुई थी।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

Thackeray Vs Shinde: उद्धव ठाकरे गुट की शिवसेना करेगी शिवाजी पार्क में दशहरा रैली, हाईकोर्ट ने दी इजाजत, कहा- BMC ने कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग कियाकनाडा में बढ़ी भारत विरोधी गतिविधियां, सरकार ने एडवाइजरी जारी कर वहां जाने वाले भारतीयों को किया अलर्टAnkita Bhandari Murder Case: 5 दिन से लापता रिजॉर्ट रिसेप्शनिस्ट के मर्डर का हुआ खुलासा, भाजपा नेता का बेटा निकला मुख्य आरोपीदिल्ली के उपराज्यपाल ने 5 AAP नेताओं पर ठोका मानहानि का केस, दो करोड़ रुपए की हर्जाने की मांगMaharashtra: शिंदे गुट को बड़ा झटका, बॉम्बे हाईकोर्ट ने दशहरा रैली को लेकर दायर याचिका को किया खारिजएक साल में वनडे, टी20 और टेस्ट में 10 विकेट से हारने वाली पहली टीम बनी इंग्लैंडडॉलर के मुकाबले रिकार्ड निचले स्तर पर पहुंचा रुपया, पहली बार 80 पार करके 81.09 स्तर पर पहुंचाPM मोदी ने पर्यावरण मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन में लिया भाग, कहा - 'भारत आज दुनिया को नेतृत्व दे रहा है'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.