चार साल की मासूम का शिक्षिकाओं ने किया यौन शोषण

इंदौर के यूरो किड्स स्कूल में हैवानियत, साथी शिक्षिका बनाती थी वीडियो, छात्रा ने मोबाइल पर पहचाना, ३ शिक्षिकाएं हिरासत में

इंदौर. शहर के मालगंज क्षेत्र स्थित यूरो किड्स स्कूल में हैवानियत की सारी हदें पार कर दी गईं। यहां तीन शिक्षिकाओं पर चार साल की मासूम छात्रा का यौन शोषण कर वीडियो बनाने का आरोप है।

शिक्षिकाएं उससे गंदी हरकत करती थीं

बच्ची स्कूल जाने में शुक्रवार सुबह ना-नुकुर कर रही थी। मां ने कारण पूछा तो उसने शिक्षिकाओं की करतूत का खुलासा किया। बच्ची ने बताया शिक्षिकाएं उससे गंदी हरकत करती थीं और उसका वीडियो भी बनाती थी। किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी। बच्ची की इस बात से परिजन के होश उड़ गए। मां और मामा बच्ची को लेकर सीधे पुलिस के पास पहुंचे । डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्रा के निर्देश पर तीन शिक्षिकाओं के खिलाफ लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम के तहत केस दर्ज कर हिरासत में ले लिया है।

वॉट्सएप पर पहचाना
बच्ची ने वॉट्सएप ग्रुप पर फोटो देखकर तीनों आरोपित शिक्षिकाओं की पहचान की।

आक्रोशित मां ने एक शिक्षिका को पीटा
पुलिस टीम बच्ची और परिजन को लेकर स्कूल पहुंची। वहां जोर जब बच्ची से बताने को कहा तो उसने अपनी मां को डरते डरते हुए बताया। जैसे ही बच्ची ने शिक्षिकाओं की तरफ अंगुली से इशारा किया, आक्रोशित मां ने एक शिक्षिका को पीट दिया। पुलिस ने उसे बचाया। मां बोली, उम्मीद नहीं थी कि शिक्षिका भी ऐसा कर सकती है। उन्होंने दोषी शिक्षिकाओं पर सख्त कार्रवाई की मांग की।

शिक्षिकाएं बोलीं, आरोप झूठे
आरोपित महिलाओं ने इस इल्जाम को एकदम खारिज किया है। आरोपित शिक्षिकाओं का कहना है, बच्ची के साथ कोई हरकत नहीं की। वे तो बच्ची के क्लासरूम में जाती तक नहीं हैं। हर क्लासरूम में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, जिनकी जांच की जा सकती है।

एएसपी धनंजय शाह, सीएसपी गजेंद्रसिंह वर्धमान व सीएसपी वंदना चौहान की टीम जांच कर रही है। जांच में जो दोषी सामने आएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।
हरिनारायणाचारी मिश्र, डीआईजी

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned