अजब-गजब: ये एेसे माटसाब जो जाते है साल में दो दिन स्कूल

महू बीआरसी की जांच में खुलासा, तहसीलदार कर रहे जांच

By: Sanjay Rajak

Published: 25 Apr 2018, 11:25 AM IST

संजय रजक.इंदौर.
शिक्षा विभाग का एक शिक्षक ऐसा है, जो वर्ष में दो ही बार गणतंत्र दिवस व स्वतंत्रता दिवस पर ही स्कूल पहुंचा। जब अफसर कार्रवाई करने पहुंचे तो शिक्षक ने उन पर हाथ तक उठा दिया।

मामला 16 अपै्रल का है। महू बीआरसी संजय नेल्सन बडग़ोंदा स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे और हाजिरी रजिस्टर जब्त कर चोरल डेम के प्राथमिक विद्यालय स्कूल पहुंचे। बीआरसी की टीम पहुंची तो एक अतिथि शिक्षक स्कूल का ताला खेालते नजर आर्इं। बीआरसी ने हाजिरी रजिस्टर जब्त किया और टीम के साथ मांगलिया गांव के प्राथमिक स्कूल पहुंची तो चोरल डेम प्रावि का सहायक शिक्षक अशोक चौहान भी यहां पहुंच गया। वह टीम के साथ मारपीट पर उतर आया और हाजिरी रजिस्टर छीनने लगा। बीआरसी ने बताया कि हमने बचने के लिए एसडीएम को फोन करना चाहा, तो शिक्षक ने मोबाइल छीन लिया और मारपीट शुरू कर दी। वे बचने के लिए स्कूल के कमरे में बंद हो गए। इसके बाद मौका देखकर वहां से रवाना हुए।

नए शिक्षा सत्र में नहीं खुला

नेल्सन ने बताया कि प्रावि और मावि चोरल डेम स्कूल में तीन शिक्षक हैं। तीनों नए शिक्षा सत्र में स्कूल ही नहीं गए। यही हाल बडगोंदा प्रावि का था। यहां भी सहायक शिक्षक नरोत्तम पटेल दो माह से गैर हाजिर हंै। जबकि इस बार नए शिक्षा सत्र में जायफूल क्लासेस लग रही है। इसकी ट्रेनिंग के लिए भी यह माटसाब नहीं गए।

कर रहे जांच
महू एसडीएम ने सहायक शिक्षक अशोक चौहान और नरोत्तम पटेल को निलंबित कर दिया है। मामले की जांच महू तहसीलदार तपीश पांडे को करने को कहा है।

कार्रवाई करेंगे

-इस मामले में हमने तुरंत कार्रवाई करते हुए जानकारी कलेक्टर को दी थी। महू एसडीएम ने तत्काल उक्त शिक्षक को निलंबित कर जांच के लिए तहसीलदार को नियुक्त किया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
अक्षय सिंह राठौर, डीपीसी
जिला शिक्षा केंद्र

Sanjay Rajak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned