किट लेकर गांव-गांव पहुंच रहे एबीवीपी कार्यकर्ता

कोरोना की दूसरी लहर : कई संदिग्धों की कराई जांच

By: रमेश वैद्य

Published: 16 May 2021, 02:47 AM IST

इंदौर. कोरोना की दूसरी लहर का असर शहरों के बाद गांवों में देखने को मिल रहा है। रोज ग्रामीण क्षेत्रों से बड़ी संया में नए संक्रमित मिल रहे है। ज्यादातर गांवों में बाहरी लोगों के प्रवेश पर भी रोक लगा दी गई। ऐसे में स्वास्थ्यकर्मियों को भी गांवों में जाने में दिक्कत उठाना पड़ रही है। इस बीच अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता नियमित रूप से गांवों में पहुंचकर जागरुकता फैला रहे है।
कार्यकर्ता अपने साथ दवाईयों की किट, मास्क, सैनिटाइजर और हैंड गलब्ज लेकर जा रहे हैं। गली-गली में लोगों को कोरोना से बचने के उपाय बताते हुए दवाइयां बांटी जा रही हैं। इसके साथ ही उन्हें घर से बाहर निकलते समय मास्क पहनने की भी समझाइश दी जा रही है। सभी का तापमान मापा जाता है। जिनमें कोरोना के लक्षण मिल रहे हैं, उन्हें संदिग्ध मानकर जांच कराने का बीड़ा भी कार्यकर्ता उठा रहे हैं। १० मई से चल रहे इस अभियान के तहत अब तक ३० हजार से ज्यादा ग्रामीणों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है।
कई जगह दिख रही लापरवाही
एबीवीपी के प्रांत मंत्री घनश्याम सिंह चौहान ने बताया कि गांवों में कोरोना संक्रमण फैलने के बावजूद लोग लापरवाही कर रहे हैं। हमारी टोली घर-घर जाकर स्क्रीनिंग कर रही हैं और उन्हें बचने के उपाय समझा रही हैं। अब तक करीब 1600 लोगों में प्रारंभिक लक्षण दिखे थे। उन्होंने नि:शुल्क किट दी गई।
राऊ विधानसभा क्षेत्र के लिए दी 31 ऑक्सीजन मशीनें
इंदौर. कोरोना संक्रमण काल में पिछले दिनों आई मेडिकल ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए लगातार मशीन दान की जा रही है। इसी क्रम में शनिवार को इंदौर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष मधु वर्मा ने राऊ विधानसभा क्षेत्र के लिए 31 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनें दी हैं। क्षेत्र के सभी भाजपा मंडल अध्यक्षों को पांच-पांच मशीने दी गई हैं, ताकि वे अपने- अपने क्षेत्र में लोगों को नि:शुल्क दे सकें। करीब १५ लाख रुपए लागत की यह मशीने प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट, उषा ठाकुर, नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे की मौजूदगी में मंडल अध्यक्षों को सौंपी गई। वर्मा ने बताया कि हमारा लक्ष्य 51 मशीने देने का है।

रमेश वैद्य Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned