दशहरे पर आरएसएस तलवार लेकर घूमती है तो पुलिस क्यों नहीं करती कार्रवाई

- कई घंटे लगातार पूछताछ के बाद भी नहीं छोड़ा तो वाल्मीकि समाज ने घेरा थाना

- पुलिस बोली छत्रीपुरा में हुए अंधे कत्ल के संबंध में की पूछताछ

By: Krishnapal Singh

Published: 10 Sep 2018, 03:04 AM IST

 

भाजपा नेता के भतीजे को पूछताछ के लिए मल्हारगंज थाने लाने के खिलाफ जमकर हंगामा हुआ। पुलिस ने एक युवक को चाकू सहित पकड़ा तो उसने भाजपा नेता के भतीजे से चाकू लेने का बयान दिया था। थाने पर प्रदर्शन के दौरान लोगों ने यहां तक कह दिया की जब दशहरे पर आरएसएस तलवार लेकर घूमती है तो उन पर पुलिस कार्रवाई करने से क्यों डरती है? लेकिन इसके बाद भी युवक के नहीं छूटने पर परिवार ने बीजेपी के बड़े नेताओं से पुलिस अधिकारियों का फोन लगवाया। पुलिस ने नेता के भतीजे पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की है।

इस पूरे मामले में भाजपा नेता प्रताप करोसिया ने बताया कि शुक्रवार दोपहर को मल्हारगंज पुलिस ने राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त जटाशंकर करोसिया के भतीजे स्वदेश पिता बालकिशन करोसिया को पूछताछ के लिए थाने लेकर पहुंची। शाम तक उसे नहीं छोडऩे पर परिजन चिंतित हो गए। पुलिस को स्वदेश के दोस्त माइकल के पास तलाशी में चाकू मिला। उसने पूछताछ में उक्त चाकू स्वदेश से लेना बताया। जिसके आधार पर पुलिस स्वदेश को भी थाने ले आई। पूछताछ के बाद भी पुलिस ने देर रात तक स्वदेश को नहीं छोड़ा। स्वदेश के पिता ने विधायक सुदर्शन गुप्ता को फोन कर पुलिस अधिकारियों से बेटे छोड़ देने की बात कहते रहे। लेकिन इसके बाद भी पुलिस ने मदद नहीं की। इस बात से गुस्साए समाजजन थाने पहुंचे। लेकिन तब भी थाना पुलिस स्वदेश से पूछताछ करने की बात पर अड़ी रही। बताते हैं इस दौरान भाजपा नेता करोसिया, पुलिस से कहने लगे की जब दशहरे पर आरएसएस तलवार लेकर घूमती है तो उन पर कार्रवाई करने से क्यों पुलिस डरती है? उन पर भी पुलिस को आम्र्स एक्ट के तहत कार्रवाई करना चाहिए। हालाकि प्रताप करोसिया ने विरोध के दौरान एेसी कोई भी बात तैश में आकर पुलिस को कहने से इनकार किया है। वे कहने लगे की उन्होंने सुना है कि भीड़ में कुछ लोगों ने यह बात पुलिस से कही है। लेकिन वे कौन लोग हैं इसका उन्हें पता नहीं।

अंधे कत्ल में की पूछताछ

टीआई संजय मिश्रा ने बताया पिछले दिनों छत्रीपुरा में राज जारवाल २२ निवासी इंदिरा नगर की अज्ञात बदमाशों ने चाकू से हमला कर हत्या की है। टीम ने आरोपी माइकल को चाकू रखने के जुर्म में पकड़ा। उसके खिलाफ आम्र्स एक्ट की कार्रवाई की है। हत्या के मामले में संदेह के चलते जब उससे पूछताछ की तो वह स्वदेश से चाकू मिलने की बात कहने लगा। स्वदेश से इस संबंध में पूछताछ की है। हालाकि स्वदेश से पूछताछ के बाद हत्या से तार जुड़ते नहीं मिले। इसलिए उसके खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाइ कर छोड़ा है।

Krishnapal Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned