scriptAdinath Prabhu was seated in the new temple of Sanwer | सांवेर के नए जिनालय में विराजमान हुए आदिनाथ प्रभु | Patrika News

सांवेर के नए जिनालय में विराजमान हुए आदिनाथ प्रभु

ब्रह्म मुहूर्त तक चली अंजनश्लाका प्रतिष्ठा- पुण्याहं, पुण्याहंण्ण्ण् प्रियंतां, प्रियंतांण्ण्ण् दिव्यघोष

इंदौर

Published: May 13, 2022 01:17:24 am

सांवेर. जैन संप्रदाय के प्रथम तीर्थंकर ऋषभदेव भगवान आदिनाथ मूलनायक के रूप में गुरुवार को विधिविधान से अपने नए जिनालय में विराजमान हो गए। प्रभु की अंजनश्लाका प्रतिष्ठा का विधान बुधवार को मध्यरात्रि से लेकर गुरुवार को ब्रह्म मुहूर्त तक चला।
सांवेर के नए जिनालय में विराजमान हुए आदिनाथ प्रभु
सांवेर के नए जिनालय में विराजमान हुए आदिनाथ प्रभु
दोपहर में नगर चौरासी के महाभोज के साथ सांवेर में जैन श्वेतांबर समाज की ओर से आयोजित सात दिवसीय अंजनश्र्लाका प्रतिष्ठा महोत्सव संपन्न हो गया। शुक्रवार को प्रात: 6 बजे नवीन मंदिरजी के कपाट का उद्घाटन होगा और मंदिर दर्शनार्थ खोल दिया जाएगा। संध्याकाल में आचार्यश्री और अन्य श्रमण-श्रमणियों का नगरवासियों को आशीर्वचन और मांगलिक सुनाकर नगर से मंगल विहार हो जाएगा।
श्वेत संगमरमर की शिलाओं से सांवेर नगर में स्थापित नवीन जिनालय में भगवान आदिनाथ की प्रतिमा की स्थापना और अंजनश्र्लाका प्रतिष्ठा का मुख्य कार्यक्रम बुधवार की मध्यरात्रि से प्रारंभ हुआ था। आचार्यवर जितरत्नसागर सुरिश्वरजी और चंद्ररत्नसागर सुरिश्वरजी महाराज की पावन निश्रा में प्रभु प्रतिमाओं के अंजन की क्रिया उन्हेल के विधिकार हितेश जैन ने करवाई। जो ब्रह्म मुहूर्त तक चलने के बाद गुरुवार को प्रात: फिर मंदिर में अन्य प्रतिमाओं की स्थापना के घंटनाद से लेकर ध्वजा चढ़ाने तक के विधान चलते रहे। प्रतिमाओं का अभिषेक मंदिर में चल रहा था, आचार्य भगवंत वासक्षेप बरसा रहे थे और मंदिरजी के बाहर खड़े धार्मिकजन पुण्याहं, पुण्याहंण्ण्ण् प्रियंतां, प्रियंतांण्ण्ण् दिव्यघोष कर रहे थे। बैंडबाजे और ढोलक की धुन पर झूमते नाचते खुशियां माना रहे थे। मंदिर में केसरिया छापे का विधान होने के बाद महिला पुरुषों ने एक-दूसरे के गालों पर केसर का लेप कर खुशियां बांटी। केसरिया खीर का प्रसाद वितरण हुआ।
ये प्रतिमाएं प्रतिष्ठापित
भगवान आदिनाथ की प्राचीन प्रतिमा के साथ ही गर्भगृह में नेमिनाथ प्रभु, विमलनाथ प्रभु, पाश्र्वनाथ प्रभु, अभिनंदन स्वामी, गौतम स्वामी,गौमुखयक्षराज,माता पद्मावती, जिनशासन देवी चकेश्वरी माता, लक्ष्मीदेवी, नाकोड़ा भैरव, मणिभद्र दादा और मंगलमूर्ति की प्रतिमाओं की प्रतिष्ठा हुई। हर प्रतिमा प्रतिष्ठा के अलग-अलग लाभार्थी रहे। मूलनायक आदिनाथ प्रतिष्ठा, विमलनाथ अंजन व प्रतिष्ठा तथा नेमिनाथ प्रभु अंजन के लाभार्थी कोठारी परिवार रहे। पाश्र्वनाथ प्रतिष्ठा के लाभार्थी विमलचंद बावेल, अभिनंदन स्वामी प्रतिष्ठा लाभार्थी चेतन दृ विवेक जैन ए नेमिनाथ प्रभु प्रतिष्ठा राजेश जैन रहे।
खाबिया परिवार लक्ष्मीदेवी भराने, गौतम स्वामी और नाकोड़ा भैरव प्रतिष्ठा के लाभार्थी रहे। पद्मावती देवी प्रतिष्ठा के लाभार्थी मोहन जैन,लक्ष्मीदेवी प्रतिष्ठा के लाभार्थी विपिन बावेल, चकेश्वरी माता प्रतिमा लाभार्थी ओमप्रकाश कटारिया परिवार,गौमुखयक्षराज प्रतिष्ठा के लाभार्थी मोहन कटारिया परिवार, मणिभद्र प्रतिष्ठा, मंगलमूर्ति और स्वर्ण स्तंभ के लाभार्थी नेताजी विजयलक्ष्मी परिवार, मंगलमूर्ति भराने और प्रतिष्ठा के लाभार्थी मुकेश जियन बड़ोदियाखान और विमलचंद कटारिया रहे।् सागरानंदसूरिजी की प्रतिमा भराने के लाभार्थी मनोहरसिंह मेहता रहे। इसके बाद नगर चौरासी महाभोज की शुरुआत लालबाग के विशाल परिसर में लगे पांडाल में हुई । इसमें तमाम जैन, अजैन महिला-पुरुषों के साथ ही बड़ी संख्या में मुस्लिमजनों ने भी भोजन प्रसादी ग्रहण की। दस हजार लोगों का महाभोज तैयार था। नगर चोरासी के लाभार्थी स्व. शांतिलाल कोठारी, स्व. पारस कोठारी और प्रसन्न कोठारी परिवार सांवेर रहे। शाही करबा के लाभार्थी दिलीप कोठारी रहे। प्रभातिया के लाभार्थी राजमलजी कैलाशबाई जैन कुड़ाना वाले और चौबीसी गान व अंगी रचना के लाभार्थी मनीष नीतू जैनम ललवानी इंदौर रहे। गुरुवार को प्रात: नवकारसी के लाभार्थी विजयकुमार कोठारी परिवार थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, एक्सक्लूसिव रिपोर्ट सिर्फ पत्रिका के पास, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट में...दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंIPL 2022 RCB vs GT live Updates: पावर प्ले में गुजरात 2 विकेट के नुकसान पर 38 रनों पर6 साल की बच्ची बनी AIIMS की सबसे कम उम्र की ऑर्गन डोनर; 5 लोगों को दिया नया जीवनGyanvapi Masjid-Shringar Gauri Case: सुप्रीम कोर्ट में 20 मई और वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई को होगी सुनवाईपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.