scriptAfter Aj Morcha, Akash Vijayvargiya now wants to become the President | अनुसूचित जाति मोर्चा के बाद अब अल्पसंख्यक मोर्चा के लिए आकाश का बाल हठ | Patrika News

अनुसूचित जाति मोर्चा के बाद अब अल्पसंख्यक मोर्चा के लिए आकाश का बाल हठ

बेटे की खातिर राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी लगा रहे टेका

इंदौर

Published: December 18, 2021 05:36:22 pm

इंदौर. भाजपा में अनुसूचित जाति मोर्चा में दिनेश वर्मा की ताजपोशी कराने के बाद विधायक आकाश विजयवर्गीय ने अल्पसंख्यक मोर्चा के लिए बाल हठ करना शुरू कर दिया है। इस मोर्चे में भी वे अपनी विधानसभा से अध्यक्ष बनवाना चाहते हैं। इस जिद को देखते हुए पुत्र मोह में पिता और बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव भी साथ दे रहे हैं।

akash_vijayvargiya.png

भाजपा के मोर्चा-प्रकोष्ठों में जिला अध्यक्ष पदों पर नियुक्तियां अंतिम दौर में चल रही हैं। कल अनुसूचित जाति मोर्चा नगर अध्यक्ष पद पर दिनेश वर्मा की ताजपोशी हो गई, जो पूर्व में दो बार अध्यक्ष रह चुके हैं। ये जरूर है कि उन्होंने अपने कार्यकाल में मोर्चा को खासा मजबूत किया था, लेकिन पार्टी आम तौर पर तीसरी बार नियुक्ति नहीं करती है। वे अपवाद साबित हुए। उसके पीछे की वजह विधायक आकाश हैं।

पांच में सबसे ज्यादा वोटर, कांग्रेसी फैक्टर मजबूत
गौरतलब है कि अल्पसंख्यक मोर्चा नगर अध्यक्ष के लिए शेख असलम का नाम खासा अजब था। पांच नंबर विधानसभा मं रबसे ज्यादा चुरिम वोट हैं, जिन्हे मजबूत नेता मिल जाता। इस बात की भनक कुछ कांग्रेस नेताओं को भी लग गई, जो उन्हें नागवार कर रही है। वे पूरी ताकत असलम को रोकने में लग गए। उन्होंने अपने भाजपा मित्रों को काम पर लगा दिया ताकि रोका जा सके. कवायद की जा रही है कि आकाश के अड़ने में ये खेल भी होने की संभावना है। ऐसा करके वे कांग्रेस दोस्तों को आस रा के प्रभाव मै जो नहीं चादि है कि असलम की निकल ली ताकि किसी भी हाल में वर्मा को बनाया जाए। सबसे ज्यादा अजा वर्ग उनकी विधानसभा में रहता है, जिसे साधने में आसानी होगी। इसके लिए वे विधायक रमेश मेंदोला से भी आमने-सामने होने में पीछे नहीं हटे।

मजेदार बात ये है कि मौजूदा अध्यक्ष मंजुर अहमद व मेहफ़ूज पठान जैसे खांटी मोर्चा नेता दूर से बैठकर नजारा देख रहे हैं। अब आकाश अल्पसंख्यक मोर्चा को लेकर भी अड़ गए हैं। कहना है कि तीन नंबर में मुस्लिम वर्ग भी निर्णायक होता है, इसलिए उनकी पसंद से बनाया जाए ताकि वे विधानसभा को मजबूत कर सके। इसको लेकर बे पूरी ताकत से अड़ गए हैं। उन्होंने मोती तबेला में रहने वाले समीर बा का नाम रखा है। या पूर्व में क्षेत्र से विधायक रहीं उषा ठाकुर के समर्थक भी थे। उनकी इस जिद में पिता कैलाश भी मदद कर रहे हैं।

विजयवर्गीय ने बा को बनाने के लिए मोर्चा के कुछ नेताओं से बात भी की है। बताते हैं कि दबाव के चलते नगर भाजपा अध्यक्ष गौरव रणदिवे भी खामोश हैं। उन्हें मालूम है कि विरोध करने पर दो नेताओं से बुराई हो जाएगी। इधर, बा का नाम आते ही अल्पसंख्यक मोर्चा के कई नेताओं के होश उड़ गए हैं, क्योंकि उन्हें संगठन में काम का अनुभव कम है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

India-Central Asia Summit: सुरक्षा और स्थिरता के लिए सहयोग जरूरी, भारत-मध्य एशिया समिट में बोले पीएम मोदीAir India : 69 साल बाद फिर TATA के हाथ में एयर इंडिया की कमानयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Election 2022: भाजपा सरकार ने नौजवानों को सिर्फ लाठीचार्ज और बेरोजगारी का अभिशाप दिया है: अखिलेश यादवतमिलनाडु सरकार का बड़ा फैसला, खत्म होगा नाईट कर्फ्यू और 1 फरवरी से खुलेंगे सभी स्कूल और कॉलेजपीएम नरेंद्र मोदी कल करेंगे नेशनल कैडेट कॉर्प्स की रैली को संभोधित, दिल्ली के करियप्पा ग्राउंड में होगा कार्यक्रम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.