Oxygen Crisis: संकट की घड़ी में वायुसेना ने संभाला मोर्चा, लगातार बढ़ रही है ऑक्सीजन की डिमांड

Oxygen Crisis: ऑक्सीजन की कमी पूरी करने के लिए भारतीय वायुसेना का विशेष विमान इंदौर आया....।

By: Manish Gite

Published: 23 Apr 2021, 06:59 PM IST

 

इंदौर। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही आक्सीजन की कमी के कारण हाहाकार मचा हुआ है। इस बीच गुजरात से ऑक्सीजन लाने के लिए भारतीय वायुसेना ने मोर्चा संभाल लिया है। वायुसेना का एक विशेष विमान (indian air force) गुजरात के जामनगर से इंदौर तक ऑक्सीजन लाने के काम में जुट गया है।

 

मध्यप्रदेश के लिए बड़ी राहत की खबर है। वायुसेना के विमान (air force aircraft ) ने आक्सीजन संकट (Oxygen Crisis) को दूर करने के लिए मोर्चा संभाल लिया है। यह वायुयान जामनगर गुजरात से ऑक्सीजन की कमी को पूरा करेगा। इसी सिलसिले में शुक्रवार को इंदौर में लैंड हुआ। इसके बाद विमान दोबारा से खाली टैंकर लेकर जामनगर के लिए उड़ गया। शाम तक भरा हुआ टैंकर लेकर यही विमान दोबारा से इंदौर एयरपोर्ट (indore airport) पर लैंड करने वाला है। केंद्र सरकार के सहयोग से विभिन्न राज्यों में इसी प्रकार से ऑक्सीजन के सिलेंडर पहुंचाए जा रहे हैं।

 

 

यह भी पढ़ेंः लापरवाहीः शव वाहन से सड़क पर गिरा कोविड संक्रमित का शव, मच गया हड़कंप, देखें VIDEO

 

आपूर्ति बढ़ने से मिलेगा फायदा

बताया जा रहा है कि इंदौर में हर दिन ऑक्सीजन की मांग बढ़ रही है। हर दिन 120 टन ऑक्सीजन की जरूरत शहर को पड़ रही है। जबकि शहर को हर दिन 80 टन के आसपास ही ऑक्सीजन मिल रही है। यही कारण है कि थोड़ी-थोड़ी देर में किसी न किसी अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म हो रही है। जिस कारण कई मरीजों की जान संकट में है।

यह भी पढ़ेंः Triple Mutant: अब ट्रिपल म्यूटेंट का खतरा, वायरस के नए रूप ने बढ़ाई चिंता

02_oxygen_airforce.png

 

केंद्र सरकार से मांगी थी मदद

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने पिछले दिनों सेना और केंद्र सरकार से मदद मांगी थी। चौहान ने सुदर्शन कोर कमांडर अतुल्य सोलंकी और बिग्रेडियर आशुतोश शुक्ला के साथ बैठ की थी। इसके बाद अफसरों ने राजधानी समेत जबलपुर, सागर, ग्वालियर में अपने अस्पतालों में बेड और आइसोलेशन सेंटर देने का आश्वासन दिया था। सेना ने अपना काम भी शुरू कर दिया। भोपाल में 150, जबलपुर में 100, सागर में 40 और ग्वालियर में 40 बेड की व्यवस्था की जा रही है। वहीं पैरामेडिकल स्टाफ की भी तैनाती की जा रही है।

यह भी पढ़ेंः Oxygen Cylinder: ऑक्सीजन का संकट, सिलेंडर भरवाने के लिए डेढ़ किमी लंबी लाइन

और पढ़ेंः

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned