एम्बुलेंस के लिए नियम 250 का, वसूल रहे  500 रुपए

प्रशासन की गाइड लाइन का नहीं किया जा रहा पालन

By: रमेश वैद्य

Published: 12 Jun 2021, 02:52 AM IST

इंदौर. कोरोना काल में अप्रेल-मई के दौरान अस्पताल में बेड, रेमडेसिविर इंजेक्शन, ऑक्सीजन की जमकर कालाबाजारी हुई। मरीजों को अस्पताल तक ले जाने के लिए एंबुलेंस और शवों को अस्पताल से श्मशान तक पहुंचाने वाले शव वाहनों के संचालकों ने मनमाने दाम वसूल पीडि़त परिवार का कष्ट बढ़ाया। लगातार शिकायतों के बाद जिला प्रशासन ने किलोमीटर के हिसाब से दरें तय कीं। फिलहाल कोरोना संक्रमण और मौतों के आंकड़ों में गिरावट के बावजूद तय दरों से अधिक पैसे वसूले जा रहे हैं। ‘पत्रिका’ ने स्टिंग किया, जिसमें अधिकतर एम्बुलेंस संचालकों द्वारा की जा रही नियमों की अनदेखी सामने आई। नियमों के अनुसार पहले 10 किलोमीटर के लिए 250 रुपए लिए जा सकते हैं, लेकिन एम्बुलेंस संचालक एमवाय से श्मशान घाट जाने के 300 से 500 रुपए तक मांग रहे हैं।
शहर के अधिकतर श्मशान घाट एमवायएच से 10 किलोमीटर में स्थित हैं। गाइड लाइन अनुसार 10 किमी के बाद प्रति किलोमीटर 20 रुपए लिए जा सकते हैं, लेकिन इसका भी पालन नहीं किया जा रहा है। जिला अस्पताल के पास खड़ी रहने वाली एम्बुलेंस की भी यही स्थिति है। कोरोना काल में कई सामाजिक संस्थाओं और धार्मिक संस्थाओं ने भी शव वाहन शुरू करवाए हैं। संख्या अधिक होने के कारण मई-अप्रेल की तुलना में काला बाजारी कुछ कम हुई है। उस समय तो तीन से चार किलोमीटर के १५०० से २००० रुपए तक वसूले जा रहे थे। मौतों की घटती संख्या के चलते शव वाहन चालक पीपीई किट सहित मास्क आदि को लेकर भी लावरवाही बरत रहे हैं।
एम्बुलेंस ड्राइवर से सीधी बात
रिपोर्टर: भैया बॉडी ले जाना है रामबाग मुक्तिधाम?
ड्राइवर : हां ले चलेंगे, 300 रुपए लगेंगे।
रिपोर्टर : शहर में तो 250 रुपए का नियम बनाया गया है?
ड्राइवर : नहीं 300 रुपए लगेंगे।
ड्राइवर : कोरोना की बॉडी है क्या?
रिपोर्टर : हां, आपके पास पीपीई किट नहीं है क्या?
रिपोर्टर : शहर से बाहर ले जाने का क्या चार्ज है?
ड्राइवर : पहले 20 किमी के 500, उसके ऊपर 20 रुपए किमी है।
यह है नियम
सामान्य एम्बुलेंस के लिए तय रेट के अनुसार पहले 10 किलोमीटर के लिए 250 रुपए लिए जा सकते हैं, जबकि उसके बाद प्रति किलोमीटर 20 रुपए लिए जा सकते हैं। लाइफ सपोर्ट सिस्टम (ऑक्सीजन सहित अन्य मशीनें) वाली एम्बुलेंस का किराया पहले 10 किमी के लिए 500 रुपए और उसके बाद २५ रुपए प्रति किमी. निर्धारित किया गया है।

रमेश वैद्य Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned