scriptApathy: Then one lakh vaccines will expire | उदासीनता: तो फिर हो जाएगी एक लाख वैक्सीन एक्सपायर | Patrika News

उदासीनता: तो फिर हो जाएगी एक लाख वैक्सीन एक्सपायर

टीके के प्रति लोगों की उदासीनता का दिखने लगा असर
समयसीमा हो रही खत्म : स्वास्थ्य विभाग का दावा- टीकाकरण अभियान तेज कर बचाई जाएंगीं वैक्सीन

इंदौर

Updated: June 27, 2022 11:36:08 am

अनिल धारवा

इंदौर।

कोरोना संक्रमण गति धीमी होने से लोगों ने गाइड लाइन का पालन करना तो बंद किया ही, वैक्सीन के प्रति भी लापरवाह हो गए हैं। सेंटर पर कम संख्या में लोगों के पहुंचने का असर वैक्सीन पर दिख रहा है। यही हाल रहा तो आने वाले समय में जिले में रखी वैक्सीन के स्टॉक में एक लाख से अधिक वैक्सीन बेकार हो जाएगी। उनकी मियाद खत्म होनेवाली है। यदि स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण की गति नहीं बढ़ाई और लोगो को वैक्सीन के प्रति जागरूक नहीं किया तो दो माह में लाखों वैक्सीन एक्सपायर हो जाएंगीं।
vaccination
उदासीनता: तो फिर हो जाएगी एक लाख वैक्सीन एक्सपायर
दरअसल जिले में तीसरी लहर के दौरान बड़ी आबादी को वैक्सीन दी गई। लोगों ने दोनों डोज तो ले लिए, लेकिन बूस्टर डोज में रुचि नहीं दिखा रहे हैं। इतना ही नहीं, 18 से 59 उम्र के लोगों के लिए सरकार ने वैक्सीन का बूस्टर डोज निजी अस्पतालों में सशुल्क लगवाने की व्यवस्था क्या की, लोग डोज लेना ही भूल गए। निजी अस्पतालों में नाममात्र के लोग वैक्सीन लगवा रहे हैं।
बच्चों में भी नही रुचि

दूसरी लहर में संक्रमण की भयावाह स्थिति बनने के बाद पूरे देश मे बच्चों को वैक्सीन का सुरक्षा कवच देने की मांग उठने लगी। सरकार ने भी पहले 14 से 17 और फिर 12 से 14 उम्र के बच्चों को वैक्सीन देने की पहल कर दी। शुरुआत में बच्चों ने खूब उत्साह दिखाया, धीरे-धीरे बड़ों की तरह बच्चों के वैक्सिनेशन में रुचि कम हो गई। यही हालत बूस्टर डोज में भी है। जिन बच्चों के दोनों डोज हो गए और बूस्टर का समय आ गया, वे भी सेंटर पर कम ही पहुंच रहे हैं। चुनाव ने बढ़ाया आंकड़ा प्रदेश में हो रहे निकाय और पंचायत चुनाव में जुटे अधिकारियों और कर्मचारियों को वैक्सीन के सभी डोज जरूरी किए गए हैं। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने चुनाव प्रशिक्षण केंद्र पर ही टीकाकरण की व्यवस्था की, जिस वजह से टीकाकरण का आंकड़ा 100-200 से बढ़कर सीधे 1000 पार हो गया।
अभियान में लाएंगे तेजी

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने दावा किया है कि वे अगले दो माह में टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देकर शेष समय में वैक्सीन का उपयोग करने की कोशिश कर रहे हैं। कोविशील्ड की 4,650 खुराक 29 जून तक बेकार हो जाएंगीं, जबकि 38,000 से अधिक डोज जुलाई माह में समाप्त होंगे। इसी तरह 1,10,800 डोज की एक्सपायरी डेट 6 अगस्त है। टीकाकरण अधिकारी डॉ. तरुण गुप्ता के अनुसार स्टॉक में 1.75 लाख से अधिक वै?सीन खुराक हैं, जिनमें कोवैक्सीन की लगभग 60,000 खुराक शामिल हैं और शेष कोविशील्ड हैं। हम हर दिन 1000 से अधिक खुराक दे रहे हैं। विभाग बूस्टर डोज लेने से बचे लोगों को कवर करने के लिए टीकाकरण अभियान 'घर-घर दस्तक' चला रहा है।
जिले में टीकाकरण एक नजर में

इंदौर जिले में अब तक 67,88,589 लोगों को कोरोना वैक्सीन लग चुकी है। पहला डोज 34,53,569 लोगों और दूसरा डोज 31,75,317 को लगा है। वहीं बूस्टर डोज 1,59,703 लोगों को लग चुका है। इनमें 60 साल से अधिक आयु वर्ग के 7,87,829 लोगों को, 45 से 59 आयु वर्ग के 13, 37,571 लोगों को, 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग में 42,48,640 व 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग में 2,78,694 लोगों को डोज लगे हैं। इसी प्रकार 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग में 1,18, 264 को वै?सीन डोज लगे हैं। बूस्टर डोज 27,414 हेल्थ वर्कर को, 36,174 फ्रंटलाइन वर्कर को और 75,855 डोज 60 साल से अधिक आयु वर्ग के लोगों को लगे हैं। इसी प्रकार 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग में 8905 और 45 से 59 वर्ष की आयु वर्ग में 7781 लोगों ने बूस्टर डोज में रुचि दिखाई है।
इंदौर जिले में वैक्सीन कब तक असरदार?

एक्सपायरी डेट वैक्सीन की संख्या
29 जून 4670
8 जुलाई 1160
18 जुलाई 10710
22 जुलाई 5880
23 जुलाई 40
26 जुलाई 20000
06 अगस्त 110800

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

कैबिनेट विस्तार के बाद पहली बार नीतीश कैबिनेट की बैठक, इन एजेंडों पर लगी मुहरभाजपा विधायक केपी त्रिपाठी के समर्थकों की गुंडागर्दी, सीईओ को पीटकर कचरे के ढेर में फेंकाDelhi: भारत को अमीर देश बनाने के लिए हर भारतवासी को अमीर बनाना पड़ेगा - अरविंद केजरीवालमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें Listजिम्बाब्वे दौरे के लिए केएल राहुल को कप्तान बनाए जाने पर पहली बार शिखर धवन ने दी अपनी प्रतिक्रियाVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकाला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.