डीएवीवी में एडमिशन के लिए 23 जून को होगी सीईटी, इस दिन से लिए जाएंगे आवेदन

इस बार छिंदवाड़ा, अमृतसर, आगरा, हैदराबाद, उदयपुर और पुणे में भी सेंटर बनेंगे।

By: रीना शर्मा

Published: 16 May 2019, 11:40 AM IST

इंदौर. देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के विभागों में सत्र 2019-20 में एडमिशन ऑनलाइन सीईटी के जरिए ही होंगे। यूनिवर्सिटी ने 23 जून को सीईटी कराने का निर्णय लिया है। इसके आवेदन की प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो जाएगी।

पिछले साल हुई ऑनलाइन सीईटी (कॉमन इंट्रेंस टेस्ट) में गड़बड़ी के आरोप लगे थे। इस कारण यूनिवर्सिटी प्रशासन हर फैसला सोच-समझकर कर रहा है। टेस्ट कराने वाली एजेंसी की तैयारियों से संतुष्ट होने के बाद ही ऑनलाइन सीईटी को सहमति दी गई है। सीईटी के आवेदन 20 मई से 10 जून तक होंगे। सीईटी के स्कोर कार्ड के जरिए 21 विभाग के 62 कोर्स की 3088 सीट पर एडमिशन दिए जाएंगे। 27 शहरों में टेस्ट सेंटर बनाए जाएंगे। इस बार छिंदवाड़ा, अमृतसर, आगरा, हैदराबाद, उदयपुर और पुणे में भी सेंटर बनेंगे।

सीटें खाली रहने का अंदेशा : सीईटी की घोषणा में देरी का कई विभागों को खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। दरअसल, देश के प्रमुख संस्थानों में जून में एडमिशन प्रक्रिया शुरू हो जाती है। वहां मौका मिलने पर विद्यार्थी सीईटी से दूरी बना लेंगे। ऐसे में वे कोर्स जिनकी डिमांड कम है, उनकी सीटें खाली रह सकती हैं।

प्रारूप बदला

इस बार से यूनिवर्सिटी ने सीईटी का प्रारूप पूरी तरह बदल दिया है। चार ग्रुप (ए, बी, सी और डी) की जगह अब सीईटी ए 1, ए 2, बी 1 और बी 2 में होगी। बाकी कोर्स के लिए सी ग्रुप में विभाग स्तर पर होने वाली प्रवेश परीक्षा, डी ग्रुप में एमफिल, ई ग्रुप में पीएचडी, एफ 1, एफ 2, एफ 3, जी 1 और जी 2 में एमई, एमटेक, एमफार्मा, एच ग्रुप में सर्टिफिकेट प्रोग्राम, आई ग्रुप में डिप्लोमा प्रोग्राम, जे ग्रुप में पीजी डिप्लोमा प्रोग्राम, के ग्रुप में यूजी प्रोग्राम, एल ग्रुप में पीजी प्रोग्राम और एम ग्रुप में बाकी अन्य प्रोग्राम शामिल हैं।

रीना शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned