बिजली अफसरों की अंधेरगर्दी...बिना बताए कर रहे कटौती

मध्य शहर संभाग के अफसरों ने प्रबंध निदेशक के आदेश को रखा ताक पर

By: Uttam Rathore

Updated: 17 Jun 2020, 10:43 AM IST

इंदौर. पश्चिम क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक विकास नरवाल ने शहर के सभी बिजली अफसरों को स्पष्ट आदेश दे रखे हैं कि मेंटेनेंस हो या फिर अन्य किसी तकनीकी कारण से अगर लाइट बंद करना हो तो पहले उपभोक्ताओं को मैसेज करें, लेकिन उनके इस आदेश का पालन मध्य शहर संभाग के अफसर नहीं कर रहे हैं। बिजली अफसरों की अंधेरगर्दी जारी है, क्योंकि उपभोक्ताओं को बिना बताए कटौती की जा रही है। आज सुबह भी कई कॉलोनी-मोहल्लों में उपभोक्ताओं को बगैर बताए बत्ती गुल कर दी गई। इससे काफी परेशानी लोगों को हुई।

बरसात में बिजली सप्लाय सामान्य बनी रहे, इसके लिए 33/11 केवी फीडर, ट्रांसफॉर्मर और बिजली लाइनों का मेंटेनेंस किया जा रहा है। पिछले डेढ़ महीने से यह काम चल रहा है, जो कि अब तक पूरा नहीं हुआ है। बिजली वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक नरवाल ने जहां मेंटेनेंस का काम 31 मई तक खत्म करने के आदेश दिए थे, लेकिन यह काम आधा जून गुजरने के बावजूद जारी है। प्रबंध निदेशक नरवाल ने शहर के पांचों डिवीजन पूर्व, पश्चिम, उत्तर, दक्षिण और मध्य शहर संभाग में आने वाले 31 जोन के अफसरों को आदेशित किया था कि मेंटेनेंस के लिए कटौती करने से पहले उपभोक्ताओं को सूचित किया जाए।

उनके 31 मई तक मेंटेनेंस खत्म करने और उपभोक्ताओं को कटौती की सूचना देने के आदेश को मध्य शहर संभाग के अफसरों ने ताक पर रख दिया है, क्योंकि आज सुबह संभाग की कई कॉलोनियों में मेंटेनेंस के लिए कटौती की गई, लेकिन उपभोक्ताओं को कोई सूचना नहीं दी गई और सुबह 8 बजे से लाइट बंद कर दी गई। मेंटेनेंस होने का उपभोक्ताओं को तब पता चला, जब उन्होंने बिजली जाने पर राजमोहल्ला जोन के अफसरों को फोन लगाया। लाइट जाने की शिकायत करने पर अफसरों ने बताया कि आज मेंटेनेंस है, जबकि होना यह चाहिए था कि प्रबंध निदेशक नरवाल के आदेश का पालन करते हुए मेंटेनेंस की जानकारी उपभोक्ताओं को देना थी। उपभोक्ताओं के फोन लगाने पर बताया जा रहा कि मेंटेनेंस है।

मध्य शहर संभाग में उपभोक्ताओं को बगैर बताए कटौती करने का यह पहला मामला नहीं है। इसके पहले भी कई बार उपभोक्ताओं को बताए बिना कटौती की गई है। इस समस्या से मध्य शहर संभाग के कार्यपालन यंत्री राजेश हरोड़े को भी अवगत कराया गया, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हुआ और आज सुबह फिर बगैर बताए मेंटेनेंस के नाम पर कटौती कर दी गई। बिजली अफसरों की इस अंधेरगर्दी के चलते आम उपभोक्ता परेशान हो रहे हैं।

Show More
Uttam Rathore Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned