आशीष दास के खिलाफ मुंबई के दंपती ने की शिकायत

आशीष दास के खिलाफ मुंबई के दंपती ने की शिकायत

Amit Mandloi | Publish: Jul, 25 2018 01:52:07 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

क्रिप्टो करंसी के नाम पर हुई धोखाधड़ी के संबंध में दिया आवेदन

इंदौर. पिनेकल प्रोजेक्ट में करोड़ों की धोखाधड़ी मामले में पकड़े गए आरोपित आशीष दास के खिलाफ पुलिस अधिकारियों के पास अब भी शिकायतंे पहुंच रही हैं। मंगलवार को पुलिस जनसुनवाई में मुंबई से आए दंपती ने दास के खिलाफ प्लॉट के नाम लाखों की धोखाधड़ी का आरोप लगाया। इसी तरह जनसुनवाई में मेक मुद्रा (क्रिप्टो करंसी ) योजना के नाम पर निवेश कराने व मोटा मुनाफा दिलाने का लालच दिलाकर धोखाधड़ी करने के संबंध में शिकायत हुई है।
जनसुनवाई में शिकायतकर्ता हिमांशु व उनकी पत्नी लीना नाईक निवासी स्कीम 71 ने पिनेकल प्रोजेक्ट में हुई धोखाधड़ी के मामले में आरोपी दास के खिलाफ शिकायती आवेदन दिया। हिमांशु ने बताया, वे इंजीनियर हैं। वर्तमान में परिवार सहित मुंबई रहते हैं। वर्ष 2014 में उन्होंने एग्रीमेंट से जेएसएम देवकॉन इंडिया प्रालि के ऑर्बिट मॉल स्थित ऑफिस से पिनेकल डी डिजायर में 1500 वर्गफीट का भूखंड खरीदा था। इसके लिए 15 लाख का चेक, एलआईसी व अन्य माध्यम से डायरेक्टर दास व पुष्पेंद्र वडेरा को दिए थे। इसके बाद से ही वे आरोपियों के पास भूखंड की रजिस्ट्री करवाने के लिए चक्कर काट रहे हैं, तब दास ने उन्हें सुपर कॉरिडोर स्थित पिनेकल डी डिजायर का विकास न होने से रजिस्ट्री न होने का बहाना बनाया। इसी तरह दंपती ने वक्रतुण्ड टाउनशिप के डायरेक्टर केके अग्रवाल, ममता अग्रवाल और सतीश कुमार सोलंकी पर भूखंड के नाम 8 लाख से अधिक की धोखाधड़ी करने के संबंध में शिकायत की है। इधर, एसपी यूसुफ कुरैशी के समक्ष शिकायतकर्ता ईश्वर पिता हरिशंकर जोशी निवासी स्कीम 71 ने धोखाधड़ी, बैंक खाते का दुरुपयोग, ब्लैकमेलिंग व झूठे केस में फंसाने के संबंध में आवेदन दिया है। उन्होंने बताया कि वे मार्केटिंग का काम करते हैं। कुछ समय पूर्व उनकी अवधेश कछवाहा निवासी मंडला और सीमा जरिया से मुलाकात हुई। 2017 में दोनों ने मेक मुद्रा (क्रिप्टो करंसी) के नाम से कंपनी के बारे में बताया। इस योजना में रुपए निवेश कर अच्छा मुनाफा होने का लालच दिया। योजना में निवेश करने के बाद जोशी ने परिचित के कहने पर कंपनी की फ्रेंचाइजी ली। उनका आरोप है कि बैंक खाता खुलवाने के बाद अवधेश और सीमा उसे टालने लगे। आरोप है दोनों ने यूजर आइडी और पासवर्ड का दुरुपयोग कर खाते में आए कई निवेशकों के रुपए उड़ाने के बाद गायब हो गए। आरोप है निवेशकों ने उनके विरुद्ध 3 करोड़ की धोखाधड़ी करने के संबंध में शिकायत की है। मामले में उन्होंने तकनीकी जांच के आधार पर जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned