हनी ट्रेप: पुलवामा अटैक के बाद भी भेजी सेना की गोपनीय सूचनाएं

हनी ट्रेप: पुलवामा अटैक के बाद भी भेजी सेना की गोपनीय सूचनाएं

Pramod Mishra | Publish: May, 17 2019 11:20:58 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

क्लर्क को लिया रिमांड पर

 

इंदौर. हनी ट्रेप में उलझकर सेना से संबंधित गोपनीय सूचना पाकिस्तान को देने के मामले में गिरफ्तार सेना के क्लर्क को कोर्ट में पेश कर 10 दिन के लिए रिमांड पर लिया गया है। एटीएस के साथ ही अन्य जांच एजेंसी व लखनऊ से आर्मी इंटेलीजेंस के अफसरों ने भी आकर क्लर्क से पूछताछ की है। इस बीच यह बात भी सामने आइ कि क्लर्क ने पुलवामा अटैक व एयर स्ट्राइक के बाद भी काफी जानकारियां भेजी थी।
एटीएस की टीम ने महू में पदस्थ सेना के क्लर्क अविनाश कुमार को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया था। उसके खिलाफ केस दर्ज करते हुए पूछताछ के लिए भोपाल पहुंचा दिया गया। गोपनीय सूचना के आधार पर एटीएस ने काम खत्म करने के बाद बाहर निकलते हुए क्लर्क अविनाश को अविनाश को उठाया था। जिस तरह से एटीएस टीम ले गई उससे लगा कि किसी ने अपहरण किया है। पुलिस को भी शिकायत की गई थी, पुलिस की जांच के दौरान बाद में बात साफ हो गई कि एटीएस ने उसे उठाया है। भोपाल में उसे कोर्ट में पेश कर 26 मई तक के रिमांड पर लिया है। एटीएस के वरिष्ठ अफसरों के सामने क्लर्क ने स्वीकार किया कि वह काफी जानकारी दे चुका है। पाकिस्तान की युवती ने फेसबुक के जरिए उससे दोस्ती की और बाद में पैसा देकर सेना के संबंध में काफी गोपनीय जानकारी हासिल की थी। उसे कई चैनलों के माध्यम से इसके लिए पैसा मिला था। क्लर्क दो मोबाइल सिम इस्तेमाल करता था, दोनों की जांच की जा रही है। क्लर्क शादीशुदा है और यहां उसकी पत्नी व एक छोटा बेटा है। भोपाल में देशभर की कई जांच एजेंसियों के प्रतिनिधि क्लर्क से पूछताछ करने पहुंचे है। लखनऊ से आर्मी इंटेलीजेंस के अफसरों की टीम ने भी कई घंटों तक पूछताछ की। क्लर्क को अभी तक कितना पैसा मिला यह साफ नहीं हो पाया है। हालांकि इस बीच यह बात भी सामने आई है कि क्लर्क के खिलाफ दर्ज मामले को सेना ने अपने दायरे में लेने की पहल शुरू की है। उनका कहना है कि मामला सेना का है इसलिए वे खुद जांच कर इसे अंजाम तक पहुंचाएंगे।
पूछताछ में पता चला कि वह दो साल से पाकिस्तानी युवती के संपर्क में आने के बाद जानकारियां भेज रहा था। सूचना के बदले मोटी रकम अविनाश खुद के और अपने साथियों के खातों के जरिए ले रहा था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned