scriptAurangzeb and babar posters on public toilets in Indore | इंदौर का माहौल बिगाड़ने की कोशिश, पब्लिक टॉयलेट्स के बाहर लगे मिले औरंगजेब के पोस्टर | Patrika News

इंदौर का माहौल बिगाड़ने की कोशिश, पब्लिक टॉयलेट्स के बाहर लगे मिले औरंगजेब के पोस्टर

कचराघर के आगे बाबर के पोस्टर लगाए, पुलिस कर रही है जांच

इंदौर

Published: May 30, 2022 08:44:42 pm

इंदौर. ज्ञानवापी विवाद के बीच इंदौर में साम्प्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने की कोशिश की गई। शहर के सार्वजनिक शौचालयों के बाहर कुछ अज्ञात लोगों ने "औरंगजेब मूत्रालय" के पोस्टर लगा दिए। मामले की सूचना मिलते ही आलाधिकारियों ने मौके से तुरंत पोस्टर हटवा दिए। पोस्टर लगाने वालों को ढूंढने के लिए पुलिस, शौचालयों के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही हैं।

patrika_mp_indore.png

सोशल मीडिया पर मामलें से संबंधित वीडियो वायरल हैं जिसमें कुछ लोगों को सुलभ शौचालयों के बाहर पोस्टर लगाते हुए देखा जा सकता हैं फिर भी मामले की भनक नगर निगम और पुलिस को नहीं हुई और न ही किसी व्यक्ति ने पुलिस थाने में शिकायत की।

अहिल्याबाई ने कराया पुनर्निर्माण
दरअसल शहर में बन रहे इस माहौल की बड़ी वजह इंदौर का ज्ञानवापी मस्जिद के साथ सीधा संबंध होना है।औरंगजेब ने 18 अप्रैल 1669 में काशी विश्वनाथ मंदिर को तुड़वाकर उसकी जगह मस्जिद का निर्माण करवाया था। बाद में इंदौर की रानी अहिल्याबाई होलकर ने काशी विश्वनाथ मंदिर का पुनर्निर्माण करवाया था। नए बने काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में इसका उल्लेख करती शिलापट लगाई गई हैं जिसमें महारानी अहिल्याबाई होलकर द्वारा कराए गए मंदिर निर्माण का जिक्र हैं।

जब महंत ने ज्योतिर्लिंग को मुगल आक्रमण से बचाया
ज्योतिर्लिंग को नुकसान से बचाने के लिए मंदिर के महंत शिवलिंग को लेकर ज्ञानवापी कुंड में कूद गए थे। हमले के दौरान मुगल सेना ने मंदिर के बाहर स्थापित विशाल नंदी की मूर्ति को तोड़ने की भी कोशिश की थी लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी मुगल सेना नंदी की मूर्ति को तोड़ नहीं पाई। अब नए निर्मित कॉरिडोर में विश्वनाथ मंदिर परिसर से दूर रहे ज्ञानवापी कूप और विशाल नंदी को एक बार फिर 352 साल बाद मंदिर प्रांगण में शामिल कर लिया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकारहिंदुओं को अल्पसंख्यक घोषित करना अदालत का काम नहीं: सुप्रीम कोर्टFBI का छापा : अमरीका में भी भारत की तरह छापेमारी, Donald Trump के फ्लोरिडा वाले घर पर FBI की रेडCWG 2022: शूटिंग के बिना भारत ने जीते 61 मेडल, चौथे नंबर पर खत्म किया कॉमनवेल्थ का सफरMaharashtra Cabinet Expansion: सुबह 11 बजे से नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह, उद्धव सरकार में मंत्री रहे इन चेहरों को भी मिल सकती है जगहबिहार में टूट के कगार पर भाजपा-जदयू गठबंधन! JDU की आज CM नीतीश के घर पर निर्णायक बैठकएक साल की उम्र में हुआ पोलियो, पैसे की कमी के चलते नहीं हुआ इलाज़, भावुक कर देगी गोल्ड मेडलिस्ट भाविना पटेल की कहानीHDFC ने दिया ग्राहकों को झटका, 10 दिन में दूसरी बार बढ़ाई होम लोन की ब्याज दरें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.