चैत्र नवरात्री शुरू होने से पहले ये क्या हुआ बिजासान माता मंदिर पर

टेकरी पर अस्थायी दुकानें लगाने को लेकर बवाल, प्रशासन व निगम ने नहीं लगने दी दुकानें तो पहुंचे विधायक शुक्ला

By: Uttam Rathore

Published: 04 Apr 2019, 11:00 AM IST

इंदौर. चैत्र नवरात्रि की शुरुआत 6 अप्रैल से होगी। इसके चलते बिजासन माता मंदिर पर लगने वाले मेले में टेकरी पर अस्थायी दुकानें लगाने को लेकर बवाल मच गया है। अव्यवस्था और गंदगी होने की वजह से जिला प्रशासन व नगर निगम दुकान नहीं लगने दे रहे हैं। इसका विरोध कुछ लोग कर रहे हैं, जिनके खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी है। टेकरी पर दुकान लगाने को लेकर हुए बवाल की सूचना मिलने पर कांग्रेस विधायक भी पहुंच गए थे।

बिजासन माता मंदिर चैत्र नवरात्रि में मेला भी लगता है। मंदिर के आसपास हार-फूल, नारियल और प्रसाद की दुकानें लगती हैं, वहीं मंदिर के सामने खाने-पीने की अस्थायी दुकानें। 6 अप्रैल से शुरू हो रही चैत्र नवरात्रि को लेकर टेकरी पर मेला लगाने की तैयारी चल रही है। मंदिर के आसपास प्रसाद के साथ बगीचे जाने वाले रास्ते पर खाने-पीने की अस्थायी दुकान लगाने का काम बुधवार को किया जा रहा था। कुछ पुजारियों द्वारा अपने मतलब का उल्लू सीधा करते हुए यह अस्थायी दुकान लगवाई जा रही थी। जानकारी जब जिला प्रशासन और निगम को लगी तो मौके पर अफसर सहित कर्मचारियों का अमला पहुंच गया और दुकानें नहीं लगने दी। इसको लेकर पुजारियों के साथ व्यापारियों ने विरोध कर हंगामा शुरू किया। इसके साथ ही कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला को फोन कर बुलवा लिया। इस पर विधायक शुक्ला भी टेकरी पर पहुंच गए और व्यापारियों के समर्थन में बोलने लगे, जब उन्हें बताया गया कि जीर्णोद्धार के साथ-साथ सौंदर्यीकरण का काम हो रहा है। टेकरी पर अस्थायी दुकानें लगने से व्यवस्था गड़बड़ाएगी और खाने-पीने की दुकानें लगने से गंदगी अलग होगी। इससे मंदिर में दर्शन करने आने वाले लोगों को परेशानी अलग होगी। इस पर शुक्ला उचित कार्रवाई करने का आश्वासन देकर निकल गए, लेकिन लोगों का विरोध जारी रहा।

बिना पैसे के मेलास्थल पर लगाएं दुकान
जिला प्रशासन और निगम टेकरी पर भले अस्थायी दुकान नहीं लगने दे रहा है, लेकिन नीचे मेला स्थल पर बिना पैसे दिए दुकानें लगाने के लिए व्यापारियों से कहा है। कुछ पुजारी और लोग इनको भड़काकर टेकरी पर दुकान लगाने पर आमादा हैं, इसलिए जिला प्रशासन ने अब विरोधियों के खिलाफ कार्रवाई करने का मूड बना लिया है।

 

 Chaitra Navratri

प्रसादी के लिए बनाई 15 दुकानें
बिजासन टेकरी पर मंदिर के पास लगने वाली प्रसाद की दुकानों को हटा दिया गया है। यहां दुकान लगाने वाले लोगों को टेकरी पर ही पक्की 15 दुकानें बनाकर दी गई हैं जो कि स्थायी है। मंदिर जीर्णोद्धार-सौंदर्यीकरण प्रबंधन समिति ने इन दुकानों में प्रसाद बेचने के लिए दुकानदारों से कहा है। टेकरी पर जहां पक्की दुकान बनाकर दी गई है, वहीं पुजारियों के लिए मकान भी बनाए गए हैं।

नवरात्रि के पहले दिन से धरना देंगे पुजारी
माता मंदिर जीर्णोद्धार और सौंदर्यीकरण के चलते पिछले दिनों जिला प्रशासन, निगम और पुलिस ने मिलकर बड़ी कार्रवाई की। इस दौरान माता मंदिर के पास बने छोटे-छोटे मंदिरों को हटाकर परिसर में ही बने मंदिर कॉम्पलेक्स में मूर्तियों को शिफ्ट किया गया है। कार्रवाई के दौरान मूर्तियों को तोडऩे के साथ लावारिस ही छोडऩे का आरोप मंदिर के पुजारी अशोक गोस्वामी ने लगाया है। इसके साथ ही उन्होंने चैत्र नवरात्रि के पहले दिन ६ अप्रैल से इस कार्रवाई के खिलाफ धरना देने की घोषणा की है।

 

Uttam Rathore Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned