भारत बंद : सवर्णों ने बंद कराई दुकानें, निकाला जुलूस

भारत बंद : सवर्णों ने बंद कराई दुकानें, निकाला जुलूस

Mohit Panchal | Publish: Sep, 06 2018 11:31:41 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में हरसिद्धि मंदिर से पहुंचें कलेक्टोरेट, कई स्कू ल रहे बंद, पालक होते रहे परेशान

इंदौर। एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में सवर्ण वर्ग और सपाक्स समाज ने आज भारत बंद का आह्वान किया है। इसका असर इंदौर और आसपास के क्षेत्र में भी देखने को मिला। बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए स्कूल मैनेजमेंट ने स्कूल बंद रखे। हालांकि इसकी सूचना कई स्कूलों ने कल ही दे दी थी। कुछ पालक जरूर बच्चों को बस स्टॉप पर लेकर खड़े नजर आए। इधर, सुरक्षा को लेकर चप्पे-चप्पे पर पुलिस व प्रशासन के अफसर तैनात हैं।

आज सुबह से भारत बंद के आह्वान का असर शहर की सड़कों पर नजर आने लग गया था। अधिकांश स्कूलों के बंद होने की वजह से बसें भी कम दिखाई दीं। कुछ बसें चल रही थीं, लेकिन उनमें बच्चें नहीं थे। सूचना के अभाव की वजह से कई पालक अपने बच्चों को लेकर बस स्टॉफ पर पहुंच गए तो कुछ स्कूल लेकर भी पहुंचे। छुट्टी की खबर मिलने के बाद उन्हें उल्टे पैर लौटना पड़ा।

बंद को लेकर कोई बवाल न हो, इसके चलते शहर के प्रमुख चौराहों पर पुलिस और प्रशासन की टीमें नजर आईं। एडीएम अजय देव शर्मा राजबाड़ा पर मौजूद थे। कलेक्टर निशांत वरवड़े व डीआइजी हरिनारायण चारी मिश्र सभी अधिकारियों से उनके क्षेत्र की स्थिति की जानकारी ले रहे थे।

इधर, सवर्ण वर्ग व सपाक्स के पदाधिकारी हरसिद्धि पर इक_ा हुए और रैली के रूप में कलेक्टोरेट पहुंचेंगे। इन लोगों के हाथों में विरोध की तख्तियां थीं। भारतीय क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्रसिंह गौतम, अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा इंदौर अध्यक्ष दीपेंद्रसिंह सोलंकी और सपाक्स के जिला महामंत्री अभय अग्रवाल के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोग इक_ा हुए।

उनमें से कुछ काले कपड़े व काला झंडा लेकर आए। हरसिद्धि से रैली कलेक्टोरेट पहुंचेगी जहां पर कलेक्टर वरवड़े को राष्ट्रपति के नाम पर ज्ञापन सौंपा जाएगा। रणनीति के हिसाब से यहां से सभी आंदोलन कारी अपने अपने क्षेत्र में बंद कराएंगे।

हालांकि सराफा, जेल रोड इलेक्ट्रिकल्स एंड इलेक्ट्रॉनिक मर्चेट्स एसोसिएशन , टाइल्स व्यापारी एसोसिएशन, महारानी रोड व्यापारी संगठन, लोहा मंडी, सीमेंट व्यापारी एसोसिएशन, छावनी अनाज मंडी, प्रॉपर्टी ब्रोकर एसोसिएसन, दवा बाजार व अहिल्या चेंबर्स ऑफ कॉमर्स सहित कई व्यापारी संगठनों ने पहले ही बंद का समर्थन कर दिया था।

ब्राह्मणजन जत्थे में निकले
आरक्षण सुधार आंदोलन के बैनर तले आज बड़ी संख्या में ब्राह्मण समाज के युवा बड़ा गणपति पर इक_ा हुए। वहां से जत्थे के रूप में राजबाड़ा पहुंचे। टोली का नेतृत्व कर रहे लालजी मिश्रा ने राजबाड़ा पर लोकमाता अहिल्या से सरकार को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना की। बाद में राजबाड़ा पर जो दुकानें खुली दिखाई दीं, उन्हें बंद करने का आग्रह किया।

सुबह से पुलिस फोर्स तैनात
डीआइजी हरिनारायण चारी मिश्र ने बताया कि आज सुबह से ही फोर्स तैनात कर दिया गया है। अफसरों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने इलाके में घूमकर व्यवस्था देखें। फिलहाल बाहर से अतिरिक्त फोर्स तो बुलाया नहीं गया है, लेकिन थाने के साथ ही डीआरपी लाइन के बल को भी लगाया गया है। इसके अलावा कंट्रोल रूम पर भी रिजर्व फोर्स रखा गया, ताकि जरूरत पडऩे पर शांति बहाली में इस्तेमाल किया जा सके।

महू में रैली निकाली
महू में भी बंद का असर देखने को मिला। सुबह कुछ दुकानें खुल गई थीं, जिन्हें बंद करा दिया गया। बंद के समर्थन में दोपहिया वाहन रैली भी निकाली गई, जो मुख्य बाजार के साथ ही सभी इलाकों में घूमी और व्यपारियों को अपने प्रतिष्ठान बंद कराने के लिए कहती रही। इसके अलावा गौतमपुरा में आज सुबह बंद समर्थकों ने बच्चों को लेने पहुंची स्कूल बसों को वापस लौटा दिया।

ताई का घर घेरा
आंदोलन को देखते हुए लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन (ताई) के निवास मनीषपुरी को आज सुबह भारी पुलिस बल ने घेरे रखा। घर की ओर आने जाने वाले मार्ग पर बैरिकेड्स लगा दिए गए। कॉलोनी में प्रवेश करने वालों से पूछताछ की जा रही थी। दरअसल, पुलिस को सूचना मिली थी कि सवर्ण वर्ग की ओर से ताई के घर का घेराव भी किया जा सकता है, जिसके बाद ऐहतियात के तौर पर ये कदम उठाए गए।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned