भारत बंद : सपाक्स समाज के आव्हान पर व्यापारियों का समर्थन

भारत बंद : सपाक्स समाज के आव्हान पर व्यापारियों का समर्थन

Mohit Panchal | Publish: Sep, 05 2018 11:22:20 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

इंदौर में शांति समिति की बैठक आज, त्योहार के बहाने कानून व्यवस्था की होगी बात

इंदौर। एट्रोसिटी एक्ट संशोधन के खिलाफ देशभर में आंदोलन तेज हो गया है। सपाक्स ने प्रदेश स्तर पर ६ सितंबर को बंद का आह्वान कर दिया है जिसे व्यापारिक व अन्य सवर्ण समाज के संगठनों का भी समर्थन मिल रहा है। आंदोलन की खबर के चलते प्रशासन और पुलिस सक्रिय हो गई है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए आज शांति समिति की बैठक भी रखी है।

सरकार की सामान्य, पिछड़ा एवं अल्पसंख्यक वर्ग विरोधी नीतियों एवं एससी एसटी एक्ट के खिलाफ सपाक्स ने 6 सितंबर को भारत बंद का आह्वान किया है। उसके समर्थन में इंदौर की इकाई ने भी मैदान संभाल लिया। इसको लेकर सभी बड़े बाजारों के व्यापारिक संगठन व प्रतिष्ठानों से बात की गई है।

संगठन के जिला महामंत्री अभय अग्रवाल के मुताबिक सभी ने बंद का समर्थन किया है। कल आधे दिन यानी दोपहर 2 बजे तक बाजार स्वेच्छा से बंद रहेंगे। संगठन ने आवश्यक सेवाओं जैसे स्कूल, कॉलेज, हॉस्पिटल, मेडिकल को बंद से मुक्त रखा है।

सुबह १० बजे कलेक्टर कार्यालय में एकत्रित होकर सपाक्स समाज द्वारा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के नाम कलेक्टर निशांत वरवड़े को ज्ञापन सौंपा जाएगा। इधर, अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष धर्मेंद्रसिंह गौतम के मुताबिक राजपूत समाज मामले में उग्र आंदोलन करेगा।

बड़े बाजारों ने किया समर्थन!
दोपहर ३ बजे बुलाई गई बैठक में प्रशासन सपाक्स के आंदोलन के चलते सुरक्षा व्यवस्था के पहलुओं पर विचार किया जाएगा। दूसरी ओर दावा किया जा रहा है कि अधिकांश बड़े बाजारों ने उनके बंद का समर्थन किया है। इनमें सराफा, जेल रोड इलेक्ट्रिकल्स एंड इलेक्ट्रानिक मर्चेट्स एसो. , टाईल्स व्यापारी एसो., महारानी रोड व्यापारी संगठन, लोहा मंडी, सीमेंट व्यापारी एसो. छावनी अनाज मंडी, प्रापट्री ब्रोकर एस. दवा बाजार व अहिल्या चेम्बर्स ऑफ कॉमर्स शामिल हैं।

हमने फेंका शिवराज पर जूता : करणी सेना
एससी-एसटी एक्ट के विरोध के बीच करणी सेना के राष्ट्रीय प्रवक्ता विजेंद्र सिंह का बड़ा बयान आया है। कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर जूता हमारे कार्यकर्ताओं ने फेंका था। कल ग्वालियर में लक्ष्मीबाई की समाधि के सामने स्थित मैदान पर बड़ा सम्मलेन आयोजित हुआ था, जिसमें करणी सेना ने भी भाग लिया था। मुख्यमंत्री की जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान सीधी में शिवराज सिंह चौहान पर जूता फेंकने का मामला सामने आया था।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned