scriptBig gift to the city... IDA will solve this old problem | शहर को बड़ी सौगात...वर्षो पुरानी ये समस्या हल करेगा IDA | Patrika News

शहर को बड़ी सौगात...वर्षो पुरानी ये समस्या हल करेगा IDA

प्राधिकरण अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा का बड़ा फैसला, 12 एकड़ में तैयार होगा ट्रक पार्क, एक हजार ट्रक हो सकेंगे खड़े इंदौर में बनेगा

इंदौर

Published: April 02, 2022 11:14:09 am

मोहित पांचाल
इंदौर। देवास नाका, ट्रांसपोर्ट नगर के अलावा शहर के कई इलाके ऐसे हैं, जहां पर सड़क किनारे बेतरतीब ट्रक खड़े रहते हैं। उनसे अब जल्द ही मुक्ति मिलने जा रही है। इंदौर विकास प्राधिकरण (आईडीए) शहर को ट्रक पार्क की सौगात
देने जा रहा है। यह पार्क 12 एकड़ में आकार लेगा, जिसमें सारी सुविधाएं मौजूद रहेंगी।
शहर को बड़ी सौगात...वर्षो पुरानी ये समस्या हल करेगा IDA
शहर को बड़ी सौगात...वर्षो पुरानी ये समस्या हल करेगा IDA
शहर के सुनियोजित विकास के लिए जिम्मेदार इंदौर विकास प्राधिकरण ने अब शहर की समस्याओं की नब्ज पकडऩा शुरू कर दी है। एक बड़ी परेशानी एबी रोड, रिंग रोड, देवास नाका और ट्रांसपोर्ट नगर सहित कई इलाकों में खड़े होने वाले ट्रकों से हैं। आम वाहन चालकों को गुत्थमगुत्था होना पड़ता है तो पुलिस को हटाने में मशक्कत करना पड़ती है। आए दिन दुर्घटनाएं अलग होती हैं, जिसकी वजह से जनता की जान आफत में रहती है। इधर, ट्रक मालिकों की
मजबूरी है कि वह वाहन कहां लेकर जाएं।
इन सभी समस्याओं का निराकरण करने के लिए प्राधिकरण अध्यक्ष जयपालसिंह चावड़ा ने एक मास्टर स्ट्रोक खेला है। आज योजना-140 के आनंदवन परिसर में होने वाली बजट बैठक में ट्रक पार्क के प्रस्ताव को रखकर स्वीकृति दी
जाएगी। ये पार्क एमआर-12 पर 12 एकड़ से अधिक जमीन पर बनाया जाएगा, जिसमें एक हजार ट्रकों के खड़े रखने की जगह उपलब्ध होगी।
पाट्र्स की दुकानें,शोरूम, मैकेनिक भी होंगे पार्क में

ट्रक पार्क सिर्फ पार्किंग के लिए नहीं बल्कि कई सुविधाएं भी दी जाएंगी। बकायदा दुकानें व शो रूम भी बनाए जाएंगे। ट्रक के पाट्र्स, कंपनियों के शो रूम के अलावा मैकेनिकों को भी गैरेज के लिए जगह उपलब्ध कराई जाएगी ताकि रिपेयरिंग में आसानी हो। साथ में सर्विस सेंटर भी बनाए जाएंगे। वहीं ड्राइवर व क्लीनरों को ठहरने के लिए कमरे तैयार होंगे तो खाने पीने की व्यवस्था के लिए ढाबे बनाए जाएंगे। ये पार्क अपने आप में संपूर्ण होगा। ट्रक वालों को आने-जाने में समस्या न हो, इसके लिए एबी रोड से बायपास के बीच की जगह का चयन किया गया है। अरंडिया बायपास से निकलकर सीधे लवकुश चौराहा स्थित जोड़ पर आ जा सकते हैं। गुजरात, दिल्ली के मार्ग को सीधा जोड़ा जा सकता है। साथ ही एमआर 12 की चौड़ाई 75 मीटर है तो समस्या भी नहीं होगी।
सौगातों भरा बजट
शहर के लिए सौगातों भरा 1100 करोड़ का बजट होगा। पिछले साल की तुलना में तीन गुना अधिक आय व 4 गुना खर्च का बजट होगा। इसमें खजराना, लवकुश ब्रिज, भंवरकुआं, फूटी कोठी व महू नाका ओवर ब्रिज को शामिल किया गया है।
खेल परिसर को मिली जगह
सुपर कॉरिडोर पर भी प्राधिकरण खेल परिसर तैयार करने जा रहा है। पूर्व में 25 एकड़ जमीन पर योजना बनाई जा रही थी, लेकिन 5-6 किसानों ने जमीन देने से इनकार कर दिया। उसके चलते अब 16 एकड़ जमीन पर ही परिसर तैयार करने की योजना है।जल्द ही उसके लिए अब टेंडर जारी होने वाला है। क्रिकेट के मैदान को एमपीसीए तैयार करेगा तो अन्य खेलों को भी यहां पर स्थान दिया जाएगा। जमीन आवंटन को लेकर टीएनसीपी को भी आपड्डिा थी जो अब दूर हो गई है। कुल मिलाकर रास्ता साफ हो गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंद्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चAnother Front of Inflation : अडानी समूह इंडोनेशिया से खरीद राजस्थान पहुंचाएगा तीन गुना महंगा कोयला, जेब कटना तयसुकन्या समृद्धि योजना में सरकार ने किए बड़े बदलाव, जानें क्या है नए नियम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.