शिर्डी से लौट रहे परिवार से बड़ी लूट, महिलाएं बोली - सबकुछ ले लो पर हमें मारना मत

शिर्डी से लौट रहे परिवार से बड़ी लूट, महिलाएं बोली - सबकुछ ले लो पर हमें मारना मत
शिर्डी से लौट रहे परिवार से बड़ी लूट, महिलाएं बोली- सबकुछ ले लो पर हमें मारना मत

Reena Sharma | Updated: 09 Oct 2019, 01:15:36 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

  • झाडिय़ों में छिपकर बैठे थे बदमाश, रांपी लगाकर पंचर की गाड़ी
  • रुकते ही परिवार के सामने आ गए 9 लुटेरे, 200 मीटर ही दूर खड़ी थी पुलिस

इंदौर. शिर्डी, शिंगणापुर और त्र्यंबकेश्वर से लौट रहे इंदौर के एक परिवार के सात लोगों को सोमवार रात पीथमपुर के पास बदमाशों ने लूट लिया। बदमाशों ने रांपी लगाकर पहले तो कार को पंचर किया फिर सबको हत्या की धमकी देते हुए एक-एक कर सभी से जेवर और रुपए छीन लिए। इस दौरान गाड़ी में बैठी महिलाओं ने बदमाशों से कहा सबकुछ ले लो लेकिन हमें मारना मत। बताया जा रहा है पहले दो और फिर सात बदमाश झाडिय़ों में से निकले थे। जिस जगह लूट हुई, वहां से करीब 200 मीटर दूर पुलिस पॉइंट था।

must read : गरबा खेलने गई युवती की गरबा पंडाल में हुई मौत, मच गया हडक़ंप

घटना बापट चौराहे के पास रहने वाले लेखराज दुबे के साथ हुई। वे परिवार के साथ कार (एमपी 09 बीडी 4546) से इंदौर लौट रहे थे। पूरे मामले में पीथमपुर थाने के एएसआई यशवंत योगी ने लूट होने से ही इनकार कर दिया। उनके मुताबिक बदमाशों ने सिर्फ टायर पंचर किए थे, लूट नहीं हुई। पुलिस का कहना है जांच के लिए टीम लगा दी है, रिजल्ट जल्द मिलेगा।

must read : पूर्व मुख्यमंत्री और उद्योग मंत्री ही दे रहे निवेशकों को निमंत्रण, सरकार बदले हु...

पत्थर, लट्ठ व धारदार हथियार लेकर आए थे बदमाश
ड्राइवर संजय नरगावे गाड़ी एक तरफ खड़ी कर स्टेपनी बदलने की कोशिश कर रहा था तबी झाडिय़ों में से दो लोग आए और कहने लगे कि गांजा बेच रहा है क्या? गाड़ी में बैठे लेखराज ने विरोध किया। इतने में झाडिय़ों से सात और लोग निकलकर आएं, जिनके हाथ में पत्थर, लट्ठ व धारदार हथियार थे। उन्होंने लेखराज के छोटे भाई कौशल दुबे और महिलाओं से मारपीट की। ड्राइवर का भी गला दबाकर कहने लगे कि सारे कहने, रुपए निकाल दो,। नहीं तो खत्म कर देंगे। इसके बाद लेखराज, कौशल, नानी शीलादेवी, मौसी, अनीता शर्मा, मां कुसुम दुबे, पत्नी अन्नू, साले नीतीश शर्मा से पर्स, चेन, दो मंगलसूत्र, एक जोड़ पायजब, जो जोड़ झुमके और 35 हजार रुपए नकद लूट लिए।

must read : जरा से विवाद में पुरुष और महिलाओं ने एक-दूसरे को लाठियों से पीटा, बचाव में सीएसपी भी घायल

पुलिस-पुलिस चिल्लाई महिलाएं, लेकिन नहीं आया कोई
लेखराज ने बताया पत्नी और मौसी एक बार पुलिस-पुलिस चिल्लाई तो लुटेरे भाग गए, लेकिन कोई नहीं आया तो 10 मिनट बाद लौट आए। घटनाक्रम 45 मिनट तक चला। लुटेरे आदिवासी वेशभूषा में थे। वहीं कार चालक संजय ने बताया कि पुलिस की पीसीआर वैन 200 मीटर दूर खड़ी थी। मैं मौका मिलते ही दौडक़र वहां पहुंचा और पुलिस को बुलाकर लाया, तक तक लुटेरे भाग चुके थे।

must read : सीएसपी की पत्नी के खिलाफ सबूत नहीं ढूंढ़ पाई पुलिस, अविवाहिता बताकर लगाया था बलात्कार का आरोप

बदमाशों ने गाड़ी पंक्चर की, लूटा नहीं
बदमाशों ने गाड़ी के टायर पक्ंचर किए थे,लेकिन लूट नहीं हुई। शिकायत की जांच कर रहे हैं।
-यशवंत योगी, एसआई, पीथमपुर थाना

कर रहे हैं पूछताछ
इस घटना की जांच के लिए टीम लगा दी गई है। कुछ लोगों को पकडक़र पूछताछ की जा रही है।
-आदित्य प्रताप सिंह, एसपी, धार

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned