नशे की लत पूरा करने के लिए तीन सगे भाई ने उड़ाए लाखों के वाहन

रात में घुमते वक्त शहर के सार्वजनिक स्थान से बाइक चोरी करते, घर पहुंचने के पहले छोड़ जाते, सुबह उठा कर बेचने निकल जाते

 

By: Krishnapal Singh

Published: 17 Apr 2019, 07:02 AM IST

नशे की लत पूरा करने के लिए आए दिन शहर के विभिन्न थाना क्षेत्र से वाहन उड़ाने वाले तीन सगे भाई को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। रात में घुमते वक्त आरोपियों को जहां भी वाहन खड़ा मिलता वहा उसकी चोरी कर लेते। पेट्रोल खत्म होने पर उसे कहीं भी छोड़ कर चले जाते। अगले दिन यदि चोरी किया वाहन उक्त स्थान पर मिलता तो उसका सौदा कर देते। तीनों आरोपी से पूछताछ में लाखों कीमत के १० दोपहिया वाहन जब्त हुए है।

एएसपी अमरेंद्र सिंह के मुताबिक हाल ही में क्राइम ब्रांच को एमजी रोड क्षेत्र में चोरी के दोपहिया वाहन से घुमने वाले बदमाशों की सूचना मिली। टीम ने एमजी रोड पुलिस के साथ मिलकर पत्थर गोदाम कलाली के सामने एक्टिवा पर घुमते आरोपी प्रवीण उर्फ टिंकू २५, भूपेंद्र उर्फ बंटी २१ व यशवंत उर्फ गोलू २३ सभी निवासी कर्बला मैदान को पकड़ा। वाहन के दस्तावेज मांगने पर तीनों वाहन छोड़ कर जाने लगे। संदेह के चलते तीनों से पूछताछ की तो पता चला जिस वाहन पर तीनों घुम रहे थे वह चोरी का है। यशंवत ने पूछताछ में बताया, तीनों भाई नशे की लत को पूरा करने के लिए शहर के विभिन्न क्षेत्र के सार्वजनिक स्थान पर खड़ी दोपहिया को चाबी की मदद से उड़ा देते। फिर उस पर तीनों घुमते। उक्त वाहन का जहां पेट्रोल खत्म हो जाता वह उसे वहीं छोड़ देते। यहां से पैदल घर जाने के बजाए तीनों उक्त स्थान पर खड़ी अन्य दोपहिया चोरी कर घर की तरफ जाते। घर आने के कुछ दूर पहले उसे भी लावारिस हाल में छोड़ जाते। उसका भाई भूपेंद्र सुबह उक्त वाहन को देखने जाता। यदि वाहन रखे स्थान पर मिल जाता तो उसे फिर उठाने के बाद सस्ते दाम में बेचने के लिए निकल जाता।

इन क्षेत्रों से उड़ाए वाहन

आरोपियों ने एमजी रोड, परदेशीपुरा, विजय नगर, छोटी ग्वालटोली, रावजी बाजार, नागझिरी उज्जैन से दोपहिया वाहन चोरी किए है। टीम ने उनकी निशानदेही पर बिना नंबर की चार वाहन जब्त किए है। सभी जब्त वाहन की कीमत करीब आठ लाख बताई जा रही है। आरोपियों से पता लगा रहे की किन स्थान से वह बाइक उड़ा चुके है। तीनों आरोपी मूलत: खंडवा के रहने वाले है। पिता की मौत हो जाने के बाद से ही तीनों मां के साथ रहकर मौसमी फलों का ठेला लगाते। आमदनी कम होने की वजह से तीनों नशा नहीं कर पाते। लत पूरा करने के लिए तीनों रात में चोरी करने के लिए निकलते। आरोपी यशवंत पूर्व में बड़वाह में वाहन चोरी के मामले में पकड़ा चुका है।

Krishnapal Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned