विद्यार्थियों के एक समूह ने अपने जन्मदिनों को समर्पित कर रखा है जरूरतमंदों के नाम

जरूरतमंदों की मुस्कान में ढूंढ रहे अपनी खुशियां

By: amit mandloi

Published: 24 May 2018, 06:12 AM IST

अकसर देखा गया है कि लोग अपना जन्मदिन होने पर पार्टी करते हैं, घूमने जाते हैं लेकिन शहर के युवाओं का एक समूह एेसा है, जिन्होंने अपना जन्मदिन जरूरतमंदों के लिए समर्पित कर रखा है। गरीबों को जरूरत की चीजें देने के साथ उन्हीं लोगों के बीच खुशियां मनाई जाती हैं।


इंदौर. कॉलेज और स्कूली छात्रों का यह समूह अपने जन्मदिन पर पार्टी करने और घूमने जाने के बजाय गरीबों की मदद करने में विश्वास करता है। पिछले दिनों ग्रुप के एक सदस्य हिमांशु पाल का जन्मदिन था, तो होटल में जाकर पार्टी करने या घूमने जाने के बजाय सदस्यों ने उसी पैसे से स्लम एरिया के लोगों के बीच जाकर उन्हें पानी के मटके वितरित किए। इसके अलावा दिव्यांग बच्चों के साथ केक काटा और उन्हें पार्टी दी। ऋषभ बागोरा ने बताया, भीषण गर्मी के दिनों में कई लोग एेसे भी हैं, जो पानी के मटके तक नहीं खरीद सकते हैं, इसीलिए हमने मटके बांटे। घूमना-फिरना पार्टी तो सालभर होती रहती है, लेकिन कुछ समय जरूरतमंदों के लिए निकालना चाहिए। हर व्यक्ति के लिए जन्मदिन खास होता है। इसलिए हमारे समूह के लोगों ने तय किया कि हम सभी अपने जन्मदिन पर फिजूलखर्ची न करते हुए जरूरतमंद लोगों के बीच अपनी खुशियां उनके चेहरों पर मुस्कान लाकर ढूंढेंगे। हम जन्मदिन पर पार्टी की अनुमानित राशि इस काम पर खर्च करते हैं। हमारा यह प्रयास कई दिनों से जारी है। हम सभी ने तय किया है कि इस कोशिश को हम सभी भविष्य में भी जारी रखेंगे।

झुंड बनाकर बैठे मिलते हैं शराबी

इंदौर. नवलखा की देशी शराब दुकान के आगे बड़ा मैदान है। रात होते ही शराबी बोतलें लेकर मैदान में जहां जगह मिलती है, वहीं बैठकर शराब पीने लगते हैं। वहीं शराब दुकान के आसपास खड़े रिक्शाओं में भी शराबी बैठे रहते हैं। सैकड़ों की संख्या में शराबी मैदान में बैठकर शराब पीते हैं। मैदान में सुबह कचरा और बोतलें भी बिखरी मिलती हैं।

रहवासी परेशान
नवलखा के पुराने बस स्टैंड स्थित इंद्रा कॉम्प्लेक्स में देशी शराब की दुकान है, लेकिन यहां पर हर्षदीप टॉवर, रतनदीप टॉवर समेत कई रहवासी मल्टियां भी हैं। ऊपर से शराबी मैदान में बैठकर शराब पीते हैं। इससे मल्टियों में रहने वालों को खासी परेशानी होती है। खासकर महिलाओं और बच्चों को असहजता महसूस होती है। शराबी न केवल गाली-गलौज करते हैं, बल्कि महिलाओं व युवतियों पर भद्दे कमेंट भी करते हैं।पुलिस नहीं करती कार्रवाई
अक्सर देखा गया है कि शराब वाले पुलिस की अनदेखी के कारण ही मनमानी करते हैं। नवलखा की शराब दुकान से रहवासी परेशान हैं। वहीं दूसरी ओर पुलिस शराबियों को यहां से खदेड़ती भी नहीं है। कई बार रहवासियों ने मामले की शिकायत की, लेकिन पुलिस कार्रवाई नहीं करती है।

amit mandloi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned