scriptBJP President furious after seeing the condition of the organization | संगठन के हाल देख भड़के भाजपा अध्यक्ष, बोले - क्या बुरी हालत है यहां ? | Patrika News

संगठन के हाल देख भड़के भाजपा अध्यक्ष, बोले - क्या बुरी हालत है यहां ?

इंदौर के क्षेत्र-5 की बैठक में कार्यकर्ताओं की कम उपस्थिति देखकर जताई नाराजगी

इंदौर

Published: May 27, 2022 11:04:17 am

इंदौर। नगर निगम चुनाव का आगाज हो गया है तो नेताओं व कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह है। पूरे शहर में अच्छा माहौल है लेकिन पांच नंबर भाजपा के एक मंडल की बैठक में संख्या नहीं के बराबर थी। ये देखकर नगर अध्यक्ष भड़क गए और बोले कि क्या बुरी हालत है, कई मंडलों की बैठकें ली हैं, लेकिन यहां बहुत बुरी स्थिति है।
संगठन के हाल देख भड़के भाजपा अध्यक्ष, बोले - क्या बुरी हालत है यहां  ?
संगठन के हाल देख भड़के भाजपा अध्यक्ष, बोले - क्या बुरी हालत है यहां ?
बैठक मान्य नहीं की जाएगी। ये वाकया पांच नंबर विधानसभा के छत्रसाल मंडल का है, जिसकी बैठक मनपसंद गार्डन के पास हॉल में रखी गई थी। बैठक लेने नगर भाजपा अध्यक्ष गौरव रणदिवे, प्रभारी तेजबहादुरङ्क्षसह और विधायक महेंद्र हार्डिया पहुंचे थे। रणदिवे ने जब बैठक में उपस्थिति देखी और पूछा कि कुल कितने कार्यकर्ता अपेक्षित थे तो 285 का आंकड़ा सामने आया। वहीं, बैठक में महज 50 कार्यकर्ता ही उपस्थित थे। इस पर उन्होंने मंडल अध्यक्ष रामबाबू यादव से पूछा कि ये क्या हालत है, संख्या कम क्यों है? इस पर जवाब था कि सूचना सबको की गई थी।
इस पर रणदिवे ने पूर्व पार्षदों को तलब कर दिया। वार्ड-37 के पूर्व पार्षद संजय कटारिया से पूछताछ की। वार्ड अध्यक्ष से पूछा कि पार्षद कितने वोटों से चुनाव जीते थे? इस पर कोई जवाब नहीं दे पाए। तब कटारिया उनके कान में बताने लगे तो रणदिवे ने बोल दिया कि ये बताने की जरूरत नहीं पडऩा चाहिए। काम करने वाले को पहले से ध्यान रहता है। इसके बाद अजयङ्क्षसह नरुका से पूछा गया कि संख्या कम क्यों है? तो जवाब था कि आज वर्किंग डे है। 20 लोग पहले ही आ गए थे, जो इस बैठक के पहले की बैठक में शामिल होकर चले गए।
बाद में दिलीप शर्मा ने भी तर्कों से संतुष्ट करने की कोशिश की लेकिन रणदिवे खासे नाराज थे। कहना था कि ये बैठक मान्य नहीं होगी। मंडल में बड़े-बड़े दिग्गज पूर्व पार्षद हैं। उसके बावजूद ऐसी बुरी स्थिति है। शहर में कई मंडलों की बैठकों में गए लेकिन ऐसी स्थिति कहीं नहीं थी। इस बैठक को नहीं माना जाएगा और वार्डों में जाकर बैठक ली जाएगी। रणदिवे ने सभी वार्ड अध्यक्षों को दीनदयाल भवन पर तलब किया।
दो बार का निर्दलीय पार्षद क्यों आया?
वीर सावरकर मंडल की बैठक में युवा नेता संजय इंगले अचानक नगर अध्यक्ष रणदिवे के पास पहुंच गए। उनका कहना था कि जब वार्ड-44 में पालक रामदास नैनोरे हैं तो सूचना योगेश देवलिया के नाम से क्यों करते हैं? उस समय मंडल अध्यक्ष रघुवंशी खड़े थे।
उन्होंने सूची निकालकर दिखा दी कि नैनोरे ही पालक हैं लेकिन नए पालक के तौर पर योगेश का नाम दिया है लेकिन स्वीकृति नहीं आई। फिर इंगले ने रुपेश देवलिया पर निशाना साधते हुए कहा कि दो बार का निर्दलीय पार्षद क्यों आया है? इस पर रणदिवे ने कहा कि बैठक में विषय जरूरी नहीं है। दीनदयाल भवन आएं, वहां बात होगी। हालांकि बाद में ये खुलासा हो गया कि विधानसभा चुनाव के दौरान रुपेश देवलिया को भाजपा में ले लिया था।
त्रिदेव रहे बैठक से गायब
निगम चुनाव को लेकर मंडल स्तर पर बैठक रखी जा रही है, जिसमें प्रमुख रूप से बूथ के त्रिदेव (अध्यक्ष, महामंत्री व बीएलए) को बुलाया जा रहा है। उसका उद्देश्य है कि वे सक्रिय हो जाएंगे तो चुनाव में बहुत सहूलियत हो जाएगी। चर्चा के दौरान कहा भी गया कि जब वे ही नहीं आए तो बैठक करने का क्या मतलब है?
नाराज हुए कार्यकर्ता
बैठक के बाद में वार्ड 37 के कुछ कार्यकर्ता नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे से मिले। कहना था कि हमारे क्षेत्र में ना सड़क है, ना पानी है। कुछ भी काम नहीं हुआ है। हमको पानी खरीदना पड़ रहा है। बूथ अध्यक्ष किसी को मुंह दिखाने लायक भी नहीं हैं तो कैसे आएंगे। ये सुनकर वे चौंक गए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

PM Modi In Telangana: 6 महीने में तीसरी बार तेलंगाना के CM केसीआर ने एयरपोर्ट पर PM मोदी को नहीं किया रिसीवMaharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गएक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाउदयपुर हत्याकांड के दरिदों को लेकर आई चौंकाने वाली खबरSingle Use Plastic: तिरुपति मंदिर में भुट्टे से बनी थैली में बंट रहा प्रसाद, बाजार में मिलेंगे प्लास्टिक के विकल्पपाकिस्तान में चुनावी पोस्टर में दिख रहीं सिद्धू मूसेवाला की तस्वीरें, जानिए क्या है पूरा मामला500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या होता है फिट और अनफिट नोट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.