दो माह पूर्व गाली देने पर युवक की हत्या कर भागे लिस्टेड बदमाश पकड़ाए

ठेके से शराब के नशे में धुत होकर बाइक से निकले, हत्या के बाद एक आरोपी अन्य मामले में जेल में सजा काटने लगा, तो दूसरा बहन के पास ललितपुर भागा

 

By: Krishnapal Singh

Published: 03 Sep 2018, 07:13 PM IST

दो माह पूर्व राहगीर को गाली देने की बात पर हत्या कर भागे लिस्टेड बदमाश को एरोड्रम पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों में से दो बाणगंगा के लिस्टेड बदमाश है। घटना के बाद से ही पुलिस सभी की तलाश में थी। अंधा कत्ल में मिली अहम जानकारी के बाद पुलिस शराब ठेके तक पहुंची। यहां से नशा करने के बाद आरोपियों ने स्कीम १५५ के खेत में बैठे युवक की चाकू से गोदकर हत्या कर फरार हो गए। पकड़े गए बदमाशों में से एक जेल से छूटा तो दूसरा पकड़े जाने के डर से ललितपुर भाग गया था।

एसपी पश्चिम सिध्दार्थ बहुगुणा के मुताबिक २९ जून की रात भूरू (२४) पिता रामू चौहान निवासी कर्मा नगर की हत्या कर भागे आरोपी सचिन उर्फ चीना उर्फ समीर ठाकुर निवासी नंदबाग कॉलोनी, तपन उर्फ तरूण पिता सुरेश बराठे निवासी नंदबाग और अमन उर्फ अम्मू पिता दयाराम झा निवासी सांई सुमन नगर को एएसपी मनीष खत्री के नेतृत्व में बनी टीम ने पकड़ा है। मुखबिर से सूचना मिली की घटना दिनांक को आरोपी क्षेत्र के ठेके पर शराब पीने गए थे। यहां टीआइ अशोक पाटीदार की टीम जांच के लिए पहुंची तो कुछ फुटेज मिले। इसमें एक बदमाश का हुलिए की पहचान हुई। उसके पास लाल रंग की बाइक होना पता चली। उसके नंबर के आधार पर टीम उसे तलाशती बाणगंगा क्षेत्र पहुंची। थाने पहुंचने पर पता चला की उक्त बाइक बदमाश सचिन उर्फ चीना की है। वह घटना के तीन दिन बाद एक अन्य मामले में जेल गया है। टीम ने सभी आरोपी को सांवरे रोड स्थित ग्राम बारोली के समीप घेराबंदी कर पकड़ा। पूछताछ में आरोपियों ने बताया की घटना वाली रात सभी नशे की हालत में बाइक पर सवार होकर स्कीम १५५ स्थित खेत पहुंचे। यहां भूरू द्वारा गंदी गालियां देने पर सभी उससे विवाद करने लगे। फिर अमन उर्फ अम्मू ने चाकू से भूरू के जांघ पर तीन वार कर दिए। इसके बाद सभी वहां से भाग गए। बाद में अधिक खून बहने से भूरू की वहीं मौत हो गई। आरोपियों के कब्जे से चाकू बरामद किया है। चीना के जेल चले जाने के बाद अम्मू भी ललितपुर, यूपी में रहने वाली बहन के घर चला गया। वहीं तपन भी मूलत: ललितपुर का रहने वाला है। अमन शातिर बदमाश है वह पकड़े जाने के डर से पास में मोबाइल भी नहीं रख रहा था।

दो के अपराधिक रिकार्ड

टीम ने रिकार्ड खंगाला तो बदमाश सचिन उर्फ चीना के खिलाफ १० अपराध मिले। इसमें ८ केस बाणगंगा में दर्ज है। वहीं अमन उर्फ अम्मू झां के खिलाफ १६ अपराध दर्ज है। इसमें १५ केस बाणगंगा तो एक केस एरोड्रम थाने में दर्ज मिला।

Krishnapal Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned