scriptbrain tumer is very danger | ब्रेन ट्यूमर के संकेतों की अनदेखी पड़ सकती है भारी | Patrika News

ब्रेन ट्यूमर के संकेतों की अनदेखी पड़ सकती है भारी

इंदौर में हर साल बढ़ रहे 500 से ज्यादा मरीज

इंदौर

Published: June 08, 2022 01:54:36 am

इंदौर. किसी बीमारी के पनपने से पहले मिलने वाले छोटे-मोटे संकेतों को अनदेखा करने से बीमारी घातक रूप ले लेती है। ब्रेन ट्यूमर भी इन्हीं बीमारियों में से एक है। इसके प्रति जागरुकता कम है। इंदौर में हर वर्ष करीब 500 मरीज सामने आ रहे हैं। इनमें से 150 से ज्यादा मरीज सिर्फ एमवायएच पहुंच रहे हैं। दिमाग में किसी प्रकार की गठान के पनपने को ब्रेन ट्यूमर कहा जाता है। यह साधारण होने के साथ कैंसर से संबंधित भी हो सकती है। जब मस्तिष्क में ट्यूमर पनपने लगता है तो शरीर संकेत देता है। संकेतों को पहचान कर चिकित्सकीय परामर्श लिया जाए तो खतरा टाला जा सकता है। समय पर इलाज न मिलने पर ब्रेन ट्यूमर जानलेवा हो सकता है।
हर ट्यूमर कैंसर का नहीं
डॉक्टरों का कहना है कि ट्यूमर को आमतौर पर कैंसर से जोड़कर देखा जाता है, लेकिन हर ट्यूमर कैंसर नहीं होता है। मस्तिष्क सेल्स (कोशिकाओं) से बना होता है। जब ब्रेन की सेल्स का नियंत्रण बिगड़ता है तो ये सेल्स खत्म होने लगती हैं। इससे मस्तिष्क के काम में रूकावट होने लगती है। वहीं, मस्तिष्क में अनियंत्रित सेल्स के तेजी से फैलने पर ये कैंसर का रूप धारण कर लेते हैं। ब्रेस्ट, लंग्स आदि किसी स्थान पर कैंसर होने पर इसके पार्टिकल्स के मस्तिष्क तक पहुंचने से भी ट्यूमर में कैंसर हो सकता है।
50 फीसदी में होता है कैंसर का ट्यूमर
न्यूरो सर्जरी विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, ब्रेन ट्यूमर के मरीजों में करीब 50 फीसदी मरीजों को कैंसर वाला ट्यूमर होता है, जिसे मलिग्नेंट ब्रेन ट्यूमर कहा जाता है। सामान्य ट्यूमर या नसों का एक जगह इकट्ठा हो जाना बिनाइन ब्रेन ट्यूमर होता है। बिनाइन ट्यूमर को सर्जरी कर निकाला जा सकता है, जबकि मलिग्नेंट ब्रेन ट्यूमर को एक बार निकालने के बाद यह दोबारा फैल सकता है।
20 फीसदी बच्चों में मस्तिष्क का कैंसर
एशिया पैसिफिक जर्नल की रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया में मस्तिष्क संबंधी बीमारियों में वृद्धि के साथ, हर वर्ष 2500 से अधिक भारतीय बच्चे मेडुलोब्लास्टोमा (बच्चों में होने वाला मस्तिष्क कैंसर) से पीडि़त होते हैं। भारत में हर साल 40 से 50 हजार लोगों में ब्रेन ट्यूमर का पता चलता है, इनमें 20 फीसदी बच्चे हैं।
ये हैं लक्षण
- सिरदर्द या कभी-कभी इसके साथ उल्टी होना।
- किसी युवा को पहली बार मिर्गी का दौरा पड़ा है तो उसमें मस्तिष्क संबंधी समस्या या ब्रेन ट्यूमर की आशंका ज्यादा होती है। - नींद न आना, मूड स्विंग, हियरिंग-स्पीच प्रॉब्लम, कॉग्निटिव डेकलाइन (सीखने की क्षमता कम होना)।
(न्यूरो सर्जन डॉ. राकेश गुप्ता के अनुसार)
ब्रेन ट्यूमर के संकेतों की अनदेखी पड़ सकती है भारी
ब्रेन ट्यूमर के संकेतों की अनदेखी पड़ सकती है भारी
अंगों को ऐसे प्रभावित करता है ट्यूमर
एमवायएच के न्यूरो सर्जन डॉ. परेश सौंधिया का कहना है कि ट्यूमर मस्तिष्क के जिस हिस्से में पनपता है, उससे ऑपरेट होने वाला हिस्सा काम करना बंद कर देता है। यदि ट्यूमर बॉडी को कंट्रोल करने वाले हिस्से में होता है तो मरीज पैरालिसिस का शिकार हो जाता है। आंख की नस से जुड़े होने पर विजन प्रॉब्लम होता है, जिसमें ऑब्जेक्ट्स का डबल दिखाई देना या कम दिखाई देना शामिल है। कोविड काल के बाद ऐसे मरीज अन्य राज्यों के बजाय एमवायएच में इलाज करवा रहे हैं, जिससे मरीजों की संख्या में आंशिक बढ़ोतरी हुई है। न्यूरो सर्जन डॉ. रजनीश कछारा का कहना है कि कई बार बहुत अंदर होने के कारण सरफेस पर ट्यूमर दिखाई नहीं देता है। गहराई में पहुंचने के लिए विशेष टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया जाता है, इसे न्यूरो नेविगेशन या इमेज गाइडेड सर्जरी कहते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

CBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: बीजेपी की बौखलाहट ने देश को ये संदेश दिया है कि 2024 का चुनाव AAP v/s BJP होगा- संजय सिंहबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'Mumbai News: दही हांड़ी फोड़ने पर 55 लाख से लेकर स्पेन जाने सहित मिल रहे हैं ये खास ऑफर; पढ़े पूरी खबरबिहार में सूखे का जायजा लेने निकले थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, गया में हेलीकॉप्टर की करवानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगKerala News: मुस्लिम लीग के महासचिव का विवादित बयान, बोले- 'लड़के-लड़कियों का स्कूल में साथ बैठना खतरनाक'PICS: देशभर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, सुनाई दे रही जयश्री कृष्णा की गूंजThane: सात मंजिला बिल्डिंग की लिफ्ट में फंसी 5 जिंदगियां, डिजास्टर मैनेजमेंट सेल और फायर ब्रिगेड ने किया रेस्क्यूAsia Cup में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले 3 खिलाड़ी, रोहित शर्मा के पास इतिहास रचने का मौका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.