बहादुरी की मिसाल-ट्रेन से सामान चोरी, छात्रा ने पकड़ा चोर

बहादुरी की मिसाल-ट्रेन से सामान चोरी, छात्रा ने पकड़ा चोर

Amit Mandloi | Publish: Nov, 26 2017 04:46:52 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

ग्वालियर से इंदौर आई छात्रा का ट्रेन में छूट गया था सामान, अपना चोरी गया सामान खोज निकाला

इंदौर.
ग्वालियर से इंदौर आई एक छात्रा अपना सामान ट्रेन में भूल गई। थोड़ी देर बाद जब ट्रेन के उसी कोच में आई, तो वहां से सामान गायब था। एक साथी की मदद से छात्रा ने न केवल अपना चोरी गया सामान खोज निकाला, बल्कि बदमाशों को भी पकड़ लिया। जब बदमाश छात्रा पर दबाव बनाने लगे तो आरपीएफ जवान बदमाश को थाने ले गए।

कल सुबह देहरादून एक्सप्रेस के कोच एस३ की सीट नंबर २९ से ग्वालियर में एमबीए कर रही सोनू बीसे इंदौर आई थीं। जल्दबाजी में वह अपना टेडी और पर्स कोच में ही भूल गईं। घर जाकर सोनू को ध्यान आया कि वह अपना सामान तो वहीं भूल आई है तो वह अपने साथी के साथ स्टेशन आईं और एस३ में तलाश की, लेकिन नहीं मिला। कोच में पड़ताल की तो बाथरूम केपास कचरापेटी में खाली पर्स मिला। इसके बाद सोनू एसी कोच में गई। यहां एक सीट पर टेडी मिला। इसके बाद यहां मौजूद एसी अंटेंडर से पूछताछ की तो वे घबरा गया। कोच के गेट के पास लगे इलेक्ट्रिक बोर्ड के पास बैग में रखे करीब ४ हजार रुपए नीचे पड़े मिले।

आरपीएफ ने दिया दखल...
आरपीएफ टीआई जेआर यादव ने बताया कि जब चोरी की घटना सामने आई तो कोच के अंटेंडर छात्रा पर दबाव बनाने लगे। करीब दो घंटे तक यहां वहां घुमाते रहे। इसके बाद छात्रा ने आरपीएफ एसआई को मामले की जानकारी दी। दोनों को थाने लाया गया। यहां ॉदोनों ने अपना गुनाह भी कबूल कर लिया। चोरी के मामले में पकड़ाए राघवेंद्र नामक युवक व उसके एक अन्य साथी के खिलाफ छात्रा से केस दर्ज करवाने के लिए कहा गया, लेकिन उन्होंने मना कर दिया।

पहले भी हो चुकी वारदात...
कुछ दिनों पहले ही सराय रोहिल्ला इंटरसिटी से इंदौर आए एक एनआरआई अली शाकिर का पासपोर्ट और १५ हजार रुपए गुम हो गए थे, वे आज तक नहीं मिले।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned