scriptBsc student saddened by copying case committed suicide | 3 दिन पहले केमिस्ट्री के पेपर में बना था नकल प्रकरण, डिप्रेशन में आकर दे दी जान | Patrika News

3 दिन पहले केमिस्ट्री के पेपर में बना था नकल प्रकरण, डिप्रेशन में आकर दे दी जान

छात्रा को बचपन से थी पढ़ते-पढ़ते हाथ पैर पर लिखने की आदत..सुसाइड नोट में लिखा..SORRY

इंदौर

Updated: April 21, 2022 07:43:34 pm

इंदौर. इंदौर में हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करने वाली एक छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। छात्रा का नाम रेणुका धाकड़ है जो माता जीजाबाई कॉलेज में Bsc थर्ड ईयर की छात्रा थी। छात्रा मूलत बरेली ग्राम पिपरिया मोती तबेला की रहने वाली थी। उसके पिता होशंगाबाद जिले के बनखेड़ी में पुलिस आरक्षक हैं। छात्रा ने सुसाइड करने से पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा है । बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले परीक्षा के दौरान रेणुका का नकल प्रकरण बना था और तब से वो डिप्रेशन में थी।

indore_news.jpg

नकल प्रकरण बनने से परेशान थी
जानकारी के मुताबिक रेणुका का तीन दिन पहले केमिस्ट्री का पेपर था और इस दौरान उसका नकल प्रकरण भी बना था। तब रेणुका ने नकल न करने की बात कही थी लेकिन कॉलेज प्रबंधन व इनविजिलेटर ने उसकी एक न सुनते हुए उसका नकल प्रकरण बना दिया था और कॉलेज से निष्कासित करने की भी बात कही थी। नकल प्रकरण बनने की बात रेणुका ने अपने पिता नारायण धाकड़ को फोन कर बताई थी जिन्होंने कॉलेज प्रबंधन से बात करने का कहा था। 21 तारीख को रेणुका का पेपर था लेकिन इससे पहले ही उसने 20 अप्रैल को रात में हॉस्टल के कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी।

यह भी पढ़ें

5 साल पहले की थी लव मैरिज..पति-बच्चों को सोता छोड़ उसी कमरे में फांसी लगाकर दी जान



सुसाइड नोट में ये लिखा
पुलिस को घटना स्थल से एक सुसाइड नोट मिला है। सुसाइड नोट कॉपी के आखिरी पेज पर लिखा हुआ है जिसमें लिखा है SORRY..खुश रहना आप सब, मम्मी-पापा यह मेरी गलती है। किसी की कोई गलती नहीं है। गलती सिर्फ मेरी है, आपने मुझ पर इतना विश्वास कर मुझे भेजा और मैंने..मयंक को अच्छे से पढ़ाना। घर में खुश रहना और मेरी जगह वह आपका नाम रोशन करेगा।

यह भी पढ़ें

लाखों की रिश्वत ले रहा था केन्द्र सरकार का बड़ा अधिकारी, CBI ने रंगेहाथ पकड़ा




बचपन से थी हाथ पैर पर लिखने की आदत
रेणुका के परिजन का कहना है कि उसे बचपन से ही पढ़ते वक्त हाथ पैर पर लिखने की आदत थी। कई बार उन्होंने बचपन में भी इस आदत को लेकर डांटा था लेकिन फिर भी उसकी आदत नहीं छूटी। इसी आदत के कारण उसका नकल प्रकरण बना और अब उसने अपनी जान दे दी। घटना के बाद परिजन का रो-रोकर बुरा हाल है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.