ट्रैफिक नियम तोडऩे में अव्वल हैं उपनगरीय बसें

चालान नहीं भरते बस मालिक : अब परमिट निरस्ती व गाड़ी जब्ती की तैयारी

इंदौर. शहर में ट्रैफिक के लिए परेशानी बनने वाली उपनगरीय बसें ट्रैफिक नियम तोडऩे में भी अव्वल हैं। चौराहों पर लगे आरएलवीडी कैमरों में ट्रैफिक नियम तोडऩे में कई बसें ऐसी भी आई जिनके चालकों ने एक से ज्यादा बार नियम तोड़े। एक बस का तो 21 बार चालान बना, लेकिन जमा नहीं किया और पुलिस ने कुछ कार्रवाई भी नहीं की।
नियम तोडऩे वाले वाहन चालकों पर कार्रवाई के लिए शहर के मुख्य 28 चौराहों पर आरएलवीडी कैमरे लगाए हैं। जो भी वाहन सिग्नल तोड़ता है, फोटो के साथ उस वाहन के मालिक का पता निकालकर ई चालान भेजा जाता है। एक बस के चालक ने करीब 39 बार नियम तोड़े, 23 बार चालान भर दिया और 16 बार का लंबित है। एक अन्य वाहन के चालक ने अलग-अलग चौराहों पर 21 बार ट्रैफिक सिग्नल तोड़ा। 21 ई चालान जारी हुए, लेकिन एक बार भी नहीं भरा और न ही पुलिस ने कोई कोई कार्रवाई की।
किसी का 21 तो किसी का 16 बार बना ई चालान: ट्रैफिक पुलिस की टॉप 10 बस नंबरों की सूची में एक बस ऐसी है, जिसने 21 बार नियम तोड़ा। एक अन्य ने 16 बार तो दूसरी ने 15 बार।

नियम तोडऩे वाली बसें महू की
पत्रिका को ट्रैफिक पुलिस से नियम तोडऩे वाली 25 बसों की सूची उपलब्ध हुई है। टॉप 10 बसों के नंबर के आधार पर एमपी ट्रांसपोर्ट की वेबसाइट के माध्यम से मालिकों के नाम सर्च किए तो पता चला कि सभी के मालिक महू निवासी हैं। लगातार ई-चालान जारी हो रहे हैं, लेकिन वे न सुधर रहे हैं और न ही राशि भर रहे हैं।

इन बसों के कई बार बने चालान
क्र. बस नंबर चालान मालिक
1. एमपी09-एफए-4846 21 हुसैन खिलजी, महू
2. एमपी09-एफए-4197 16 अशोक वर्मा, महू
3. एमपी09-जीएफ-2560 15 दिनेश वर्मा, महू
4. एमपी09-एफए-4104 13 कुलदीप वर्मा, महू
5. एमपी09-एफए-4148 12 जगदीश शर्मा महू
6. एमपी09-एफए-3954 09 अशोक वर्मा महू
7. एमपी09-एफए-5724 08 जैकी वर्मा, महू
8. एमपी09-एफए-5748 07 राकेश सिलावट महू
9. एमपी09-एफए-5034 06 बहादुरसिंह महू
10. एमपी-09-2132 06 योगेंद्रसिंह महू

आरएलवीडी के ई चालान की समीक्षा से पता चला है कि कई बसों के चालक आदतन नियम तोड़ रहे हैं और ई चालान भी नहीं भर रहे। इन पर सख्ती कर अब बसों को जब्त किया जाएगा। साथ ही परमिट निरस्त करने के लिए आरटीओ को लिखा जाएगा।
-बसंतकुमार कौल, डीएसपी ट्रैफिक

रमेश वैद्य Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned