छोटे सड़कों पर बड़ी बसे लगा रही जाम

झाबुआ टॉवर, पटेल ब्रिज से चल रही दो दर्जन से अधिक स्लीपर बसें

By: Sanjay Rajak

Published: 02 Jun 2019, 11:14 AM IST

इंदौर. न्यूज टुडे.

दो माह पहले परिवहन विभाग, प्रशासन और नगर निगम ने मिलकर सरवटे बस चलने वाली बसों को अस्थाई बस स्टैंड में शिफ्ट कर दिया है। तीन वर्ष पहले कलेक्टर ने शहर के अंदर से चल रही बसों को बाहर का रास्ता दिखाया था। बावजूद कुछ ट्रेवल्स एजेंसी अभी रेलवे स्टेशन के आसपास से ही बसों का संचालन कर रही हैं। सुबह और शाम को जाम लग रहा है, लेकिन आरटीओ, प्रशासन, यातायात सभी मौन हैं।

जानकारी के अनुसार झाबुआ टॉवर और पटेल ब्रिज पर दर्जनों ट्रेवल्स के कार्यालय हैं। यहीं से बुकिंग की जाती है और अधिकांश बसों का संचालन भी यहीं से किया जाता है। कुछ बसें रवाना तो तीन इमली से होती हैं, लेकिन वापसी में सरवटे न जाते हुए सीधे झाबुआ टॉवर और पटेल ब्रिज पर सवारियों को उतार जाती हैं।

लग जाता है जाम

इन ट्रेवल्स की अधिकांश बसें सुबह और शाम को झाबुआ टॉवर और पटेल ब्रिज पर ही सवारियां लेने आती हैं। कुछ बस संचालक तो बसों को सड़क पर ही पार्क करते हंै, जिससे दिनभर आने-जाने वाले वाहनों को परेशानी का सामना उठाना पड़ता है। झाबुआ टॉवर में दर्जनों बसों को दिनभर खड़ा किया जाता है। इस मामले में न ही कभी ट्रैफिक पुलिस ने कार्रवाई की है और न आरटीओ यहां दम दिखा पा रहे हैं।

Sanjay Rajak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned