scriptCandidates are also trying to reach out to people through social media | Mp election 2023: सोशल मीडिया वार रूम: पहले से तय होते हैं सीन, ताकि नेताजी की छवि बन सके अच्छी | Patrika News

Mp election 2023: सोशल मीडिया वार रूम: पहले से तय होते हैं सीन, ताकि नेताजी की छवि बन सके अच्छी

locationइंदौरPublished: Nov 09, 2023 08:45:28 pm

बुजुर्गों का पैर पड़ना, बच्चों को दुलारना, महिलाओं का आशीर्वाद लेना पहले से रहता है तय, सोशल मीडिया के माध्यम से भी जन-जन तक पहुंचने की कोशिश में प्रत्याशी, रील्स में इमोशनल गानों व फोटो के जरिए नायक बन रहे उम्मीदवार

 

Mp election 2023: सोशल मीडिया वार रूम: पहले से तय होते हैं सीन, ताकि नेताजी की छवि बन सके अच्छी
Mp election 2023: सोशल मीडिया वार रूम: पहले से तय होते हैं सीन, ताकि नेताजी की छवि बन सके अच्छी
प्रमोद मिश्रा

एक समय था, जब चुनाव प्रचार जनसंपर्क, बैनर-पोस्टर से चल जाता था, लेकिन अब स्थिति काफी बदल गई है। अब जनसंपर्क के साथ ही सोशल मीडिया के जरिए लोगोंं के बीच नायक बनने का प्रयास नेताजी कर रहे हैं। राजनीतिक दलों के अधिकांंश नेताओं ने छवि चमकाने का काम एजेंसियों को सौंप दखा है। एजेंसी के कर्मचारी इमोशनल गानों की रील्स के साथ ही पोस्टर आदि बनाकर मतदाताओं के बीच वायरल कर रहे हैं। नेताजी का उदारवादी चेहरा दिखाना उनकी प्राथमिकता में है। प्रचार के दौरान नेताजी का बुजुर्गों का पैर पड़ना, बच्चों को दुलारना आदि पहले से ही तय रहता है। नेताजी के साथ चल रहा वीडियोग्राफर तुरंत इस पल को क्लिक करता है और उसमें गाने समेत कई चीजों को एड कर नायक की रील वायरल कर दी जाती है।
शहर में एक-दो नहीं, बल्कि कई ऐसी डिजिटल मीडिया एजेंसी हैं, जो स्थानीय के साथ ही बाहरी उम्मीदवारों की सोशल मीडिया के जरिए छवि चमकाने का काम अपने हाथ में ले रखा है। एजेंसी के लिए पार्टियां अहम नहींं हैं, उम्मीदवार अहम हैं। एक ही एजेंसी एक क्षेत्र के कांग्रेस तो दूसरे इलाके के भाजपा उम्मीदवार के लिए काम कर रही है। निर्दलीय भी साथ हैं।
...............
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.