scriptCareer of future doctors at stake, families afraid to Return UKRAINE | दांव पर भावी डॉक्टरों का कॅरियर, UKRAINE लौटने के नाम से डर रहे परिजन | Patrika News

दांव पर भावी डॉक्टरों का कॅरियर, UKRAINE लौटने के नाम से डर रहे परिजन

हजारों भारतीय छात्र UKRAINE में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे हैं। जो छात्र स्वदेश लौट चुके हैं, उनमें से ज्यादातर स्थिति सामान्य होने के बाद भी वहां जाना नहीं चाहते। अब सवाल उठ रहे हैं कि वहां से लौटे छात्रों की आगे की पढ़ाई कैसे पूरी होगी?अब ये छात्र डिग्री पूरी करने के लिए एफएमजीई एक्ट में बदलाव की मांग कर रहे हैं।

इंदौर

Updated: March 04, 2022 02:59:14 am

इंदौर. यूक्रेन और रूस के बीच छिड़ी जंग ने यूक्रेन में पढ़ रहे विदेशी विद्यार्थी अपने वतन लौटने को मजबूर हैं। हजारों भारतीय छात्र यूक्रेन में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे हैं। इन्हें लाने के लिए युद्धस्तर पर प्रयास जारी है। वहीं, जो छात्र स्वदेश लौट चुके हैं, उनमें से ज्यादातर स्थिति सामान्य होने के बाद भी वहां जाना नहीं चाहते। अब ये छात्र डिग्री पूरी करने के लिए एफएमजीई एक्ट में बदलाव की मांग कर रहे हैं।
एमबीबीएस के लिए हर साल बड़ी संख्या में छात्र यूक्रेन, किर्गिस्तान, बांग्लादेश, फिलिपिंस और चाइना जैसे देशों का रूख करते हैं। इसकी वजह भारत की तुलना में आसानी से दाखिला और कम फीस है। विदेश से एमबीबीएस करने वालों को यहां लौटकर प्रैक्टिस करने के लिए फॉरेन मेडिकल ग्रेजुएट्स एक्जामिनेशन (एफएमजीई) क्लीयर करनी होती है। हालांकि, करीब 20 फीसदी छात्र ही यह परीक्षा पास कर पाते हैं। मप्र मेडिकल काउंसिल में अभी 137 डॉक्टर ही पंजीकृत हैं, जिन्होंने दूसरे देशों से मेडिकल की शिक्षा हासिल की है।
अब सवाल उठ रहे हैं कि वहां से लौटे छात्रों की आगे की पढ़ाई कैसे पूरी होगी? गुरुवार को ही यूक्रेन से आए रजत हिल्लाल के परिजन उसके सुरक्षित लौटने पर बेहद खुश दिखे। आगे की पढ़ाई को लेकर किए सवाल पर रजत की मां मनीषा का कहना है कि हम तो यही चाह रहे हैं कि बेटे को कभी यूक्रेन न लौटना पड़े। सरकार हमारे बच्चों के लिए यहीं आगे की पढ़ाई की व्यवस्था करे।
दांव पर भावी डॉक्टरों का कॅरियर, UKRAINE लौटने के नाम से डर रहे परिजन
दांव पर भावी डॉक्टरों का कॅरियर, UKRAINE लौटने के नाम से डर रहे परिजन
यूक्रेन जाने वालों की भी कम नहीं मुश्किल
श्री अरबिंदो यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार डॉ. आनंद मिश्रा का कहना है, यूक्रेन में युद्ध खत्म होने के बाद भी लंबे समय तक स्थिति सामान्य होने के आसार नहीं हैं। ऐसे में वहां जाकर पढऩे के इच्छुक छात्रों के भी पढ़ाई पर संकट बना हुआ है। लंबे अरसे बाद ऑनलाइन क्लास विकल्प हो सकती है।
दांव पर भावी डॉक्टरों का कॅरियर, UKRAINE लौटने के नाम से डर रहे परिजनये हो सकते हैं विकल्प
मॉडर्न मेडिकल कॉलेज की मान्यता खत्म होने के बाद वहां पढ़ रहे एमबीबीएस के विद्यार्थियों का ट्रांसफर अन्य कॉलेजों में कराया था। इनमें सीटें रिक्त नहीं होने पर एमसीआइ ने विशेष अनुमति दी। ऐसा फैसला विदेश से लौटने वालों के लिए हो सकता है।
विदेश से लौटे और अब यहीं रहकर पढऩा चाह रहे छात्रों का अभी ही एफएमजीई कराया जाए, जो छात्र पात्र नहीं मिले उन्हें तैयारी का समय देकर अगले सत्र के लिए तैयार कराएं।
ऑनलाइन और डीम्ड विवि में सिर्फ एक ही सत्र के लिए विशेष अनुमति से एमबीबीएस की सीटें बढ़ें। डिग्री पूरी होने पर एफएमजीई पास करने पर ही प्रैक्टिस की अनुमति हो।
एक विवि से दूसरे विवि में समान कोर्स में ट्रांसफर के लिए भी एलिजिबिलिटी (पात्रता) रिपोर्ट लगती है। इसमें देखा जाता है कि दोनों विवि का सिलैबस समान है या नहीं। मॉडर्न मेडिसिन में सभी जगह एनोटॉमी, फिजियोलॉजी, बायोकैमिस्ट्री, मेडिसिन, सर्जरी आदि विषय पढ़ाए जाते हैं। लेकिन, किस साल कौन से टॉपिक पढ़ाए गए ये एलिजिबिलिटी जांचने पर ही तय होगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

31 साल बाद जेल से छूटेगा राजीव गांधी का हत्यारा, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेशकान्स फिल्म फेस्टिवल में राजस्थान का जलवा, सीएम गहलोत ने जताई खुशीगुजरातः चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा, BJP में शामिल होने की चर्चाआतंकियों के निशाने पर RSS मुख्यालय, रेकी करने वाले जैश ए मोहम्मद के कश्मीरी आतंकी को ATS ने किया गिरफ्तारआज चंडीगढ़ की ओर कूच करेंगे किसान, बॉर्डर पर ही बिताई रात, CM भगवंत बोले- 'खोखले नारे' नहीं तोड़ सकते संकल्पवाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर अहम बहस, जानें किन मुद्दों पर हो सकता है फैसलादिल्ली में आज एक बार फिर चलेगा बुलडोजर! सुरक्षा के लिए 400 पुलिसकर्मियों की मांगकांग्रेस नेता कार्ति चिंदबरम के करीबी को CBI ने किया गिरफ्तार, कल कई ठिकानों पर हुई थी छापेमारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.