मां के दुपट्टे से ही इंजीनियर बेटे ने लगा ली फांसी, जानें क्या है वजह

मां के दुपट्टे से ही इंजीनियर बेटे ने लगा ली फांसी, जानें क्या है वजह

Reena Sharma | Publish: Jul, 20 2019 01:00:01 PM (IST) | Updated: Jul, 20 2019 01:01:28 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

अन्नपूर्णा थाना क्षेत्र का मामला, बैंक मैनेजर पिता लगाते रहे फोन

इंदौर. प्रतियोगी परीक्षा गेट की तैयारी कर रहे इंजीनियर ने खुदकुशी कर ली। बैंक मैनेजर पिता और मां ने सुबह से उसे कई बार फोन किया, लेकिन जवाब नहीं मिला। उन्होंने बेटे के पड़ोसी को देखने भेजा, तब घटना का पता चला। अन्नपूर्णा पुलिस ने शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।

must read : मैडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

जांच अधिकारी अर्जुनसिंह राठौर ने बताया, हेरम्ब (23) पिता विनोद आचार्य निवासी सुदामा नगर ने शुक्रवार को घर में फांसी लगा ली। शाम करीब छह बजे घटना का पता चलने पर पहुंचे तो घर का दरवाजा अंदर से बंद था। रतलाम में रहने वाले माता-पिता को सूचना दी तो वे शहर पहुंचे। पिता ने बताया, बेटा सुदामा नगर स्थित घर में अकेला रहकर पढ़ाई करता था। मैकेनिकल इंजीनियरिंग के बाद गेट की तैयारी कर रहा था। गुरुवार रात करीब साढ़े 12 बजे मां से आखिरी बार फोन पर बात की। दिनभर से वे और पत्नी बेटे को फोन लगा रहे थे। कॉल अटेंड नहीं करने पर पड़ोसी से संपर्क किया। उन्होंने घर पहुंचकर कई आवाज लगाई। दरवाजा नहीं खुलने पर पड़ोसी ने खिडक़ी से झांककर देखा तब घटना का पता चला।

must read : मैडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

डाइनिंग टेबल पर मार्कशीट व दस्तावेज मिले

पुलिस ने बताया, माता-पिता के पहुंचने के बाद घर का दरवाजा तोड़ा। एफएसएल अधिकारी व टीम ने जांच की। जिस कमरे में युवक ने फांसी लगाई वहां डाइनिंग टेबल पर उसकी मार्कशीट व अन्य जरूरी दस्तावेज मिले। संभवत: उक्त टेबल पर चढक़र मां के दुपट्टे का फंदा बनाकर पंखे पर फांसी लगाई। मौके से पुलिस ने दो मोबाइल व लैपटॉप जब्त किए। मोबाइल डिस्चार्ज मिला। पता चला, युवक दो दिन बाद पुणे इंटरव्यू के लिए जाने वाला था। पिता आलोट स्थित ताल की एसबीआई में मैनेजर हैं। बड़े भाई की प्राइवेट नौकरी है। उनकी शादी हो चुकी है। वहीं बहन भोपाल में पढ़ाई कर रही है।

must read : मैडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान

विजय नगर इलाके के शीतल नगर निवासी रोशनी (21) ने गुरुवार रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मकान मालिक ने देखा तो विजय नगर पुलिस को जानकारी दी। वह एक युवती के साथ किराए से कमरा लेकर रहती थी। वह मूलत: बैतूल की रहने वाली थी। यहां पर प्रतियोगी परीक्षा के साथ नर्सिंग की परीक्षा की तैयारी कर रही थी। रूममेट युवती गुरुवार को ही अपने घर गई थी। घर से कोई सुसाइट नोट नहीं मिला।

must read : मैडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

उसका मोबाइल पुलिस ने जब्त किया है। परिवार, रूममेट व मकान मालिक से भी पुलिस ने बात की लेकिन आत्महत्या की कोई वजह सामने नहीं आई। पता चला है कि रोशनी पढ़ाई में काफी अच्छी थी। शुक्रवार को एमवाय अस्पताल में उसका पोस्टमॉर्टम हुआ। परिजन शव को बैतूल ले गए। विजयनगर पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned