scriptchain robbery, theft and rape cases increased | पुलिस ने शिकंजा तो कसा पर चेन लूट, चोरी व रेप के मामले और बढ़े | Patrika News

पुलिस ने शिकंजा तो कसा पर चेन लूट, चोरी व रेप के मामले और बढ़े

तीन सालों की तुलनात्मक स्थिति: बलवा व अपहरण के मामले भी ज्यादा, प्रतिबंधात्मक कार्रवाई के बाद भी नहीं थमे अपराध

इंदौर

Published: December 31, 2021 05:22:38 pm

इंदौर. 2020 में कोरोना के साए से बाहर आने के बाद 2021 में राहत की उम्मीद थी, लेकिन इस साल हुए अपराधों ने एक तरह से पुलिस को चुनौती दे दी है। 2021 में चेन लूट, चोरी, बलात्कार के मामले जमकर बढ़े हैं। बदमाशों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई भी ज्यादा हुई, लेकिन अपराधों पर असर नहीं हुआ।
पुलिस ने शिकंजा तो कसा पर चेन लूट, चोरी व रेप के मामले और बढ़े
पुलिस ने शिकंजा तो कसा पर चेन लूट, चोरी व रेप के मामले और बढ़े
बढ़ते अपराध को रोकना और अपराधियों पर सख्त कार्रवाई पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है। पिछले तीन साल के आंकड़े पर नजर डालें तो साफ होता है कि हत्या के मामले आंशिक कम हुए है, लेकिन हत्या के प्रयास यानी 307 के मामले ज्यादा हुए है। लूट के मामले पिछले साल की तरह है, लेकिन चेन स्नेचिंग बढ़ गई है।
लोगों की संपत्ति को ज्यादा नुकसान
अपराध बढ़े हैं लेकिन लूट, चोरी में लोगों की संपत्ति को ज्यादा नुकसान हुआ है। चोरी के मामले में पुलिस की रिकवरी 40 प्रतिशत से आगे नहीं बढ़ पाई है। घरों में चोरी के मामले पिछले साल के 542 के मुकाबले 731 हो गई है। वाहन चोरी भी बहुत ज्यादा हुई है। पिछले साल जहां 2612 वाहन चोरी हुए थे, वहीं इस साल यह बढ़कर 3807 हो गए हैं। यानी करीब 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। अपहरण के मामले भी 505 के मुकाबले 803 हो गए हैं। हालांकि, अपरहरण के अधिकांश मामलों में बरामदी हो गई है।
अपराध की तुलनात्मक स्थिति (1 जनवरी से 15 दिसंबर तक)

श्रेणी वर्ष 2019 2020 2012

हत्या 77 81 76
हत्या का प्रयास 120 92 107

लूट 62 57 57
चेन स्नेचिंंग 23 19 29
घरों में चोरी 612 542 731
साधारण चोरी 687 418 798

वाहन चोरी 3271 2612 3807
बलवा 34 48 63

बलात्कार 394 315 388
अपहरण 678 505 803

अन्य 11321 12209 13098
कुल 17325 16939 20036
..............

अन्य श्रेणी की कार्रवाई
श्रेणी 2019 2020 2021

आबकारी एक्ट 3510 3951 4546
आम्र्स एक्ट 1857 1510 1802

एनडीपीएस 1304 1018 1514

.................

प्रतिबंधात्मक कार्रवाई

श्रेणी 2019 2020 2021
धारा 110 8362 7254 8969
धारा 151 10598 7706 28138
जिलाबदर 271 271 214

रासुका 25 99 125

वर्जन

हर दिन होगी अपराध की समीक्षा, टॉस्क देकर कराएंगे काम

पुलिस अपराध रोकने के लिए सख्ती से काम करेगी। हर दिन थानों के अपराध की समीक्षा होगी, अफसरों को अपराध कम करने तथा अपराधियों पर लगाम कसने के टास्क दिए जाएंगे। लगातार अपराध करने वालों को जेल भेजा जाएगा। पुलिस बिना किसी दबाव के काम करेगी और लोगों को जल्द ही इसका असर दिखने लगेगा।
- हरिनारायणाचारी मिश्र, पुलिस कमिश्नर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.